क्या हस्तमैथुन करने से बाल झड़ते हैं? ऐसे ही 9 अन्य प्रश्नों के उत्तर

हस्तमैथुन को लेकर कई तरह के मिथक और भ्रांतियां फैली हुई हैं। इसे बालों के झड़ने से लेकर अंधेपन तक हर चीज से जोड़ा गया है। लेकिन इन भ्रांतियों का कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है और हस्तमैथुन किसी भी हानिकारक दुष्प्रभाव से जुड़ा नहीं है।

बल्कि, इसका विपरीत सच है: हस्तमैथुन के कई साबित हो चुके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य लाभ होते हैं। जब आप हस्तमैथुन करते हैं तो आपका मूड ठीक हो सकता है, तनाव कम हो सकता है और आपमें दबी वासना की ऊर्जा सुरक्षित तरीके से बाहर निकल सकती है।

यह आत्म-प्रेम का अभ्यास करने और अपने शरीर व उत्तेजनाओं को खोजने व अनुभव करने का एक मज़ेदार और सुरक्षित तरीका भी है।

अगर आपके मन में हस्तमैथुन के कारण बाल झड़ने या अन्य कोई समस्या होने से सम्बंधित सवाल हैं तो आगे पढ़ते रहें:

  1. बाल झड़ना
  2. अंधापन
  3. स्तंभन दोष
  4. जननांगों में चोट
  5. प्रजनन क्षमता
  6. मानसिक स्वास्थ्य
  7. सेक्स इच्छा
  8. बारम्बारता
  9. सेक्स पर प्रभाव

1. क्या हस्तमैथुन करने से बाल झड़ते हैं?

समय से पहले बालों का झड़ना मुख्य रूप से जेनेटिक्स के कारण होता है, हस्तमैथुन के कारण नहीं। औसतन, अधिकांश लोगों के एक दिन में 50 से 100 बाल झड़ते हैं, और उनकी जगह नए बाल उगते हैं। यह चक्र बालों के प्राकृतिक विकास की प्रक्रिया का एक हिस्सा है।

लेकिन अगर यह चक्र बाधित हो जाता है, या गिरने वाले बालों की जड़ों में स्कार टिश्यू भर जाते हैं, तो इसके कारण गंजेपन की समस्या हो जाती है।

कई बार इस बाधा के पीछे आपके जेनेटिक्स का हाथ होता है। इस वंशानुगत स्थिति को पुरुष-पैटर्न गंजापन या महिला-पैटर्न गंजापन के रूप में जाना जाता है। पुरुषों में यह पैटर्न गंजापन यौवनावस्था की शुरुआत में ही शुरू हो सकता है।

बाल झड़ने के अन्य संभावित कारण हैं:

  • हार्मोनल बदलाव
  • खोपड़ी में संक्रमण
  • स्किन विकार
  • बालों का अत्यधिक खिंचना
  • बालों पर अत्यधिक केमिकल का उपयोग
  • कुछ दवाओं के सेवन से
  • रेडिएशन थेरेपी से

2. क्या इससे मैं अंधा हो सकता हूँ?

बिलकुल भी नहीं!

यह एक और आम भ्रांति है जो वैज्ञानिक अनुसंधान पर आधारित नहीं है।

अंधेपन के वास्तविक कारण निम्न हो सकते हैं:

  • जेनेटिक्स
  • ग्लूकोमा
  • मोतियाबिंद
  • आंख में चोट
  • कुछ हेल्थ समस्याएं जैसे डायबिटीज

3. क्या इससे स्तंभन दोष होता है?

शोध इस विचार का समर्थन नहीं करते हैं कि हस्तमैथुन से स्तंभन दोष हो सकता है।

तो वास्तव में किस कारण से स्तंभन दोष होता है? इसके कई शारीरिक और मनोवैज्ञानिक कारक हैं, जिनमें से किसी में भी हस्तमैथुन शामिल नहीं है।

इसके मुख्य कारक निम्न होते हैं;

4. क्या यह मेरे जननांगों को नुकसान पहुंचाएगा?

नहीं, हस्तमैथुन आपके जननांगों को नुकसान नहीं पहुंचाएगा।

हालाँकि, यदि आप हस्तमैथुन करते समय पर्याप्त चिकनाई (लुब्रीकेंट) का उपयोग नहीं करते हैं, तो आपको दर्दनाक घर्षण और संवेदनशीलता का अनुभव हो सकता है।

इसके अलावा, कुछ मामलों में अत्यधिक कठोरता से हस्तमैथुन करने पर जननांगों पर चोट लग सकती है।

 
 
 
 

5. क्या इससे मेरी प्रजनन क्षमता पर असर पड़ेगा?

ऐसा होने की संभावना काफी कम है।

शोध से पता चलता है कि रोज स्खलित होने या वीर्य छोड़ने से भी शुक्राणु की गुणवत्ता पर प्रभाव नहीं पड़ता है।

पुरुषों में, प्रजनन क्षमता निम्न कारकों से प्रभावित हो सकती है:

  • कुछ चिकित्सीय स्थितियां, जैसे कि अवरोही अंडकोष, जिसमें जन्म से ही व्यक्ति के अंडकोष पूर्ण या आंशिक रूप से शरीर के अंदर होते हैं।
  • शुक्राणु निर्माण या वितरण में समस्या
  • रेडिएशन या कीमोथेरेपी
  • रसायनों और अन्य पर्यावरणीय कारकों के संपर्क में आना

महिलाओं में प्रजनन क्षमता निम्न कारकों से प्रभावित हो सकती है:

  • कुछ चिकित्सीय स्थितियां, जैसे एंडोमेट्रियोसिस (गर्भाशय के बाहर एंडोमेट्रियल ऊतक की उपस्थिति)
  • रजोनिवृत्ति
  • रेडिएशन या कीमोथेरेपी
  • रसायनों और अन्य पर्यावरणीय कारकों के संपर्क में आना

6. क्या इसका मेरे मानसिक स्वास्थ्य पर कोई प्रभाव पड़ेगा?

हां हां हां! शोध से पता चलता है कि हस्तमैथुन वास्तव में आपके मानसिक स्वास्थ्य में सुधार कर सकता है।

ऑर्गाज्म के दौरान आप जो ख़ुशी महसूस करते हैं, उससे आपको निम्न मानसिक फायदे हो सकते हैं:

  • दबा हुआ तनाव कम करना
  • मूड सुधारना
  • आपको आराम महसूस करने में मदद करना
  • आपको अच्छी नींद लाने में मदद करना

7. क्या यह मेरी सेक्स इच्छा को मार सकता है?

बिल्कुल भी नहीं। बहुत से लोगों को लगता है कि हस्तमैथुन उनकी सेक्स इच्छा को खत्म कर सकता है, लेकिन कोई भी वैज्ञानिक शोध इसका समर्थन नहीं करता।

अलग-अलग व्यक्ति में सेक्स इच्छा का स्तर अलग-अलग हो सकता है, और कभी-कभार इसके स्तर में उतार-चढ़ाव आना आम बात है।

लेकिन हस्तमैथुन आपके कम सेक्स करने का कारण नहीं बनता है; बल्कि इसका उल्टा ऐसा माना जाता है कि हस्तमैथुन आपकी कामेच्छा को थोड़ा बढ़ा सकता है – खासकर यदि आपमें पहले से सेक्स इच्छा की कमी है तो।

तो कामेच्छा में कमी का कारण क्या है? वास्तव में ऐसी बहुत सारी स्थितियां हैं जो आपमें सेक्स इच्छा में कमी का कारण बन सकती हैं, जैसे:

  • टेस्टोस्टेरोन की कमी
  • डिप्रेशन या तनाव
  • नींद की समस्या, जैसे ऑब्सट्रक्टिव स्लीप एपनिया (रात में अचानक नींद खुलना)
  • कुछ दवाओं का दुष्प्रभाव

8. कितना हस्तमैथुन करना बहुत ज्यादा होता है?

आप अत्यधिक हस्तमैथुन कर रहे हैं या नहीं, यह जानने के लिए खुद से निम्न प्रश्न पूछें:

  • क्या आप हस्तमैथुन करने के लिए दैनिक गतिविधियों या कामों को छोड़ रहे हैं?
  • क्या आपका काम या स्कूल छूट रहा है?
  • क्या आप अपने मित्रों या परिवार के साथ मिलने की योजनाएँ रद्द कर देते हैं?
  • क्या आप इसके कारण महत्वपूर्ण सामाजिक आयोजनों में भाग नहीं ले पाते हैं।

यदि इनमें से किसी भी प्रश्न का उत्तर हां है, तो हो सकता है कि आप हस्तमैथुन करने में बहुत अधिक समय व्यतीत कर रहे हों। हालांकि हस्तमैथुन करना सामान्य और स्वास्थ्यवर्धक होता है, लेकिन अत्यधिक हस्तमैथुन आपके काम या स्कूल में हस्तक्षेप कर सकता है या आपके द्वारा अपने रिश्तों की उपेक्षा करने का कारण बन सकता है।

अगर आपको लगता है कि आप बहुत ज्यादा हस्तमैथुन कर रहे हैं, तो इसपर काबू पाने के तरीके खोजें। इसके अलावा आप एक मनोवैज्ञानिक से भी सलाह ले सकते हैं।

9. क्या हस्तमैथुन करने से सेक्स बर्बाद हो सकता है?

नहीं, बल्कि इसका उल्टा सच है!

हस्तमैथुन वास्तव में आपके साथी के साथ सेक्स को बेहतर बना सकता है। सेक्स की स्थिति या इच्छा न होने पर पारस्परिक हस्तमैथुन दोनों पार्टनरों को अपनी अलग-अलग इच्छाओं का पता लगाने के साथ-साथ आनंद का अनुभव करने की अनुमति दे सकता है।

एक दूसरे के साथ हस्तमैथुन करना फोरप्ले का ही एक हिस्सा होता है, और सेक्स में लम्बे समय तक टिकने में मदद कर सकता है। साथ ही, सेक्स से एक घंटे पहले स्वयं हस्तमैथुन करने से सेक्स में वीर्य को जल्दी गिरने रोका जा सकता है।

हस्तमैथुन का आनंद लेने से पार्टनरों को गर्भधारण से बचने और यौन संचारित संक्रमणों को रोकने में भी मदद मिल सकती है।

निष्कर्ष

हस्तमैथुन करना एक सुरक्षित, प्राकृतिक और स्वस्थ कार्य होता है।

यह आपको अपनी सेक्स इच्छाओं और जरूरतों को गहराई से समझने का एक शानदार तरीका है।

आप हस्तमैथुन करते हैं या नहीं – और आप कैसे हस्तमैथुन करते हैं – यह आपका व्यक्तिगत निर्णय है। हस्तमैथुन करने का कोई भी सही या गलत तरीका नहीं होता। न ही आपको इसे लेकर कोई शर्म या अपराधबोध महसूस करना चाहिए।

याद रखें कि हस्तमैथुन से कोई हानिकारक दुष्प्रभाव नहीं होते हैं। यदि आप किसी असामान्य लक्षण का अनुभव कर रहे हैं या ऐसा महसूस कर रहे हैं कि आप बहुत अधिक हस्तमैथुन कर रहे हैं, तो अपने डॉक्टर से मिलें। वह आपकी किसी भी चिंता पर विस्तार से चर्चा कर सकता है।