क्या लिंग का अचानक खड़ा होना नॉर्मल है?

समय-समय पर, पुरुषों में अचानक या बिना किसी यौन उत्तेजना के लिंग खड़ा होने की संभावना होती है।

किशोरों और युवा पुरुषों में लिंग अचानक खड़ा होने की संभावना अधिक होती है, हालांकि यह वयस्क पुरुषों में भी हो सकता है। साथ ही, सुबह के समय लिंग अपनेआप खड़ा होना कई पुरुषों में एक सामान्य प्रक्रिया होती है, चाहे फिर उनकी उम्र कुछ भी हो।

इसके अलावा, कभी-कभार लिंग खड़ा करने में परेशानी होना या लम्बे समय तक लिंग खड़ा न रख पाना, चिंता का कारण नहीं होता। हालांकि, अगर आपको अपने लिंग के खड़ा होने की सांद्रता या क्षमता में बहुत सारे बदलाव दिखाई देते हैं, तो यह इरेक्टाइल डिसफंक्शन (नामर्दी) या किसी अन्य अंतर्निहित चिकित्सा समस्या का संकेत हो सकता है।

टेस्टोस्टेरोन और इरेक्शन

2016 के एक रिव्यु के अनुसार टेस्टोस्टेरोन यौन क्रिया में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। 2006 के एक और रिव्यु ने विशेष रूप से लिंग के खड़े होने में टेस्टोस्टेरोन की भूमिका को देखा और पाया कि इनमें संबंध है।

यह स्पष्ट नहीं है कि अचानक लिंग खड़ा होने में टेस्टोस्टेरोन क्या भूमिका निभाता है, और शोधकर्ता इस बात को लेकर भी निश्चित नहीं हैं कि वास्तव में कौन सी चीज लिंग के अचानक खड़ा होने को ट्रिगर करती है।

हालाँकि टेस्टोस्टेरोन लिंग को अचानक खड़ा करने में भूमिका निभा सकता है, लेकिन लिंग का खड़ा होना शरीर में एक ही बार में होने वाली कई चीजों का परिणाम होता है।

सामान्य रूप से लिंग तब खड़ा होता है जब पुरुष यौन उत्तेजित होता है। इस उत्तेजना के परिणामस्वरूप, हार्मोन, मांसपेशियां, नसें और रक्त वाहिकाएं सभी मिलकर लिंग खड़ा करने का काम करती हैं।

यह तब शुरू होता है जब उत्तेजना होने पर दिमाग लिंग की मांसपेशियों को रिलैक्स होने का संकेत भेजता है। इससे लिंग में रक्त भरना शुरू हो जाता है, और यह तब तक भरता है जबतक कि लिंग पूरा खड़ा नहीं हो जाता।

इसलिए अधिकांश मामलों में लिंग के अचानक खड़े होने को एक सामान्य कार्य माना जाता है और यह अच्छे यौन स्वास्थ्य का संकेत हो सकता है।

सुबह लिंग खड़ा होना (एनपीटी)

सुबह के समय लिंग खड़ा होना, जिसे मेडिकल भाषा में एनपीटी कहा जाता है, भी अचानक लिंग खड़ा होने का एक भाग है। एनपीटी का मुख्य लक्षण होता है सुबह उठते ही लिंग पूरा खड़ा मिलना। एनपीटी कई लड़कों और पुरुषों के लिए एक सामान्य घटना होती है।

खड़े लिंग के साथ जागना, लिंग में तंत्रिका तंत्र का स्वस्थ होना व बेहतर रक्त संचार का संकेत होता है। इसलिए इसका होना एक अच्छी खबर है।

एनपीटी युवा पुरुषों में होना अधिक आम है, हालाँकि वयस्क पुरुष भी इसका अनुभव कर सकते हैं। जैसे-जैसे पुरुष 40-50 की उम्र तक पहुंचते हैं, उनमें प्राकृतिक टेस्टोस्टेरोन का स्तर गिरने लगता है, और उनमें एनपीटी होने की सम्भावना भी कम होने लगती है।

औसतन, पुरुषों का लिंग सोते समय 5 बार खड़ा होता है, और प्रत्येक इरेक्शन लगभग 30 मिनट तक रहता है।

 
 
 
 

एनपीटी का क्या कारण है?

कई कारकों को एनपीटी का कारण माना जाता है।

इसका एक कारण शारीरिक उत्तेजना है, जिसे आपका शरीर सोते समय भी महसूस कर सकता है। इसका मतलब है, आपके शरीर का बिस्तर से रगड़ने पर भी लिंग खड़ा होना शुरू हो सकता है।

हार्मोनल बदलाव भी एनपीटी का कारण बन सकता है, क्योंकि सुबह के समय आपमें टेस्टोस्टेरोन का स्तर सबसे अधिक होता है।

सोते समय दिमाग का विश्राम करना भी एक कारक हो सकता है, क्योंकि जागते समय इरेक्शन को दबाने के लिए आपका दिमाग कई हॉर्मोन निकालता है, लेकिन सोते समय इनमें कमी आ जाती है।

लिंग को अचानक खड़ा होने से रोकने के तरीके

किसी भी व्यक्ति को अपने लिंग के अचानक खड़ा होने की प्रक्रिया को ट्रिगर होने से रोकना संभव नहीं होता। यदि आप अपने अनियमित लिंग के खड़ेपन को लेकर चिंतित हैं, तो अपने डॉक्टर से बात करें। डॉक्टर यह निर्धारित करने में मदद करेगा कि आपका इरेक्शन सामान्य है या किसी अंतर्निहित स्थिति का संकेत है।

हालाँकि ऐसी कुछ चीजें हैं, जिनको करके आप इसे जल्दी खत्म कर सकते हैं और अन्य लोगों की नजर से छुपा सकते हैं:

  • कुछ और सोचें। अपने लिंग से ध्यान हटाकर किसी और चीज पर ध्यान देने की कोशिश करें। अपने आप को विचलित करने से आपके इरेक्शन को तेजी से समाप्त होने में मदद मिल सकती है।
  • अपने इरेक्शन को उत्तेजित करने से बचें। अचानक लिंग खड़ा होने के दौरान कामोत्तेजक चीजों के बारे में सोचने से यह सामान्य इरेक्शन में बदल जाता है, जिससे इसे वापिस बैठने में अधिक समय लग सकता है।
  • अपनी स्थिति बदलने का प्रयास करें। आप बैठकर और अपने पेंट की सिलवटों को थोड़ा ऊपर खिसकाकर, अपने इरेक्शन को अन्य लोगों की नजर में आने से छिपा सकते हैं।
  • अपनी जेबों में हाथ डालें। यदि आप खड़े होते हुए ही अपने इरेक्शन को छिपाना चाहते हैं, तो अपने हाथों को अपने पेंट की जेब में डालें और अपने लिंग की पोजीशन को बदलकर शरीर के करीब करने की कोशिश करें। ऐसा करने से आपका लिंग कम बाहर दिखेगा।
  • लिंग के एरिया को किसी चीज से कवर करें। आपके पास जो भी चीज उपलब्ध हो जैसे किताब, जैकेट, बैग आदि, उससे अपने लिंग को ढकने का प्रयास करें।

याद रखें कि यह एक सामान्य स्थिति है। लिंग का अचानक खड़ा होना स्वस्थ यौन क्रिया का संकेत हो सकता है, और ज्यादातर पुरुष इसका अनुभव करते हैं।

आपको डॉक्टर से कब मिलना चाहिए?

यदि आप अपने लिंग खड़ा होने की आवृत्ति में अचानक बड़ा परिवर्तन देखते हैं, तो अपने डॉक्टर से बात करें।

यदि आपको लिंग खड़ा होने के दौरान, पहले या बाद में दर्द महसूस होता है, तब भी आपको अपने डॉक्टर को दिखाना चाहिए।

यदि आपका लिंग 4 घंटे से अधिक समय तक लगातार खड़ा बना रहता है, तो आपको तुरंत एक आपातकालीन मेडिकल सहायता लेनी चाहिए। यह आपमें प्रियपिज्म होने का संकेत हो सकता है, जिसमें लिंग के ऊतकों को स्थाई रूप से नुकसान पहुँचने का खतरा होता है।

निष्कर्ष

सामान्य रूप से लिंग का अचानक खड़ा होना एक प्राकृतिक प्रक्रिया है, जिसमें किसी मेडिकल सहायता की आवश्यकता नहीं होती।

जिन पुरुषों को लिंग पूरा खड़ा करने या खड़ा बनाए रखने में लगातार समस्याएं होती हैं, उन्हें अपने डॉक्टरों से सलाह लेनी चाहिए, क्योंकि यह एक अंतर्निहित चिकित्सा स्थिति का संकेत हो सकता है।

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.