क्या हर दिन सेक्स करना सामान्य है?

सेक्स एक सिद्ध तनाव निवारक के रूप में जाना जाता है, जो आपके मूड को तुरंत बढ़ा देता है, और हाँ, हर दिन सेक्स करना पूरी तरह से सामान्य होता है।

जीवन के कुछ पड़ाव के दौरान आप अधिक बार सेक्स करते हैं। उदाहरण के लिए, डेटिंग या शादी के शुरुआती दौर में जिसे “हनीमून फेज” कहा जाता है, कपल दिन में तीन से चार बार सेक्स करते हैं। ऐसा तब भी होता है जब कोई कपल बच्चा पैदा करने की योजना बना रहा होता है और गर्भधारण की संभावना को बढ़ाना चाहता है।

यदि व्यक्ति अविवाहित है या यदि उनका साथी यौन संबंध बनाने के लिए उपलब्ध नहीं है, तो वे हस्तमैथुन द्वारा अपनी यौन इच्छाओं को संतुष्ट कर सकते हैं, जो भी एक सामान्य प्रक्रिया है।

सेक्स, विशेष रूप से एक से अधिक पार्टनर के साथ किया गया सेक्स, अवांछित गर्भावस्था के अलावा आपमें यौन संचारित रोगों (एसटीडी) की संभावना को बड़ा सकता है।

इसलिए, आप चाहे कितना भी सेक्स करें, कंडोम के उपयोग और जन्म नियंत्रण जैसे सुरक्षात्मक उपायों को अपनाना महत्वपूर्ण है।

रोज सेक्स करने के फायदे के फायदे क्या हैं?

सेक्स न सिर्फ आपको अच्छा महसूस कराता है, बल्कि लंबे समय तक आपके स्वास्थ्य को भी अच्छा रखता है।

शोधकर्ताओं के अनुसार सेक्स के लाभों में निम्न शामिल हैं:

  • बेहतर कामेच्छा
  • मूड में सुधार
  • योनि के गीलेपन में बढ़ोतरी
  • महिलाओं की अपने मूत्र को नियंत्रित की क्षमता में बढ़ोतरी
  • इम्यून सिस्टम बेहतर होना
  • वजन घटाने की कोशिश में अतिरिक्त मदद
  • ब्लड प्रेशर कम होना
  • हार्ट अटैक का खतरा कम होना
  • प्रोस्टेट कैंसर का खतरा कम होना
  • अच्छी और बेहतर नींद आना
  • याददाश्त बेहतर होना
  • तनाव में राहत मिलना

जो लोग हफ्ते में कम से कम एक बार यौन संबंध बनाते हैं, उनमें इम्युनोग्लोबुलिन ए नामक एंटीबाडी का स्तर बढ़ता है, जो बिमारियों से लड़ने में मददगार होती है।

क्या रोज सेक्स करना जरूरी है?

सेक्स न केवल आपकी शारीरिक जरूरतों को पूरा करता है, बल्कि एक रिश्ते में दो भागीदारों के बीच भावनात्मक संबंध भी स्थापित करता है। पुरुषों की तुलना में महिलाओं के लिए भावनात्मक जुड़ाव अधिक जरूरी होता है।

निश्चित रूप से सेक्स के कई लाभ होते हैं, लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि यह आपके जीवन का एक दैनिक और अनिवार्य काम होना चाहिए।

आप एक दिन या हफ्ते में कितनी बार सेक्स करते हैं, इसे सीमित करना पूरी तरह से ठीक है। ऐसा इसलिए है क्योंकि जरूरी नहीं है कि दोनों सेक्स पार्टनरों को एक ही समय पर या दूसरे पार्टनर की तरह बार-बार सेक्स करने की इच्छा हो।

इसके अलावा, दोनों भागीदारों की इच्छा ही है, जो सेक्स को अधिक संतुष्टिदायक और आनंददायक बनाती है। और किसी को यौन संबंध बनाने के लिए मजबूर करने से इतने लाभ नहीं मिलते और अक्सर रिश्तों में खटाश बढ़ती है।

सेक्स न करें जब

  • आपकी साथी सेक्स नहीं करना चाहती (थकान या बीमारी के कारण)
  • सेक्स आपके काम और जीवन में एक बड़ी बाधा बन जाता है।
  • ज्यादा सेक्स करने से अक्सर आप अपनी घरेलू या आर्थिक जिम्मेदारियां भूल जाते हैं।
  • ज्यादा सेक्स करने से यदि योनि में सूजन या जलन हो रही है।

इसलिए, आपको हमेशा अपनी साथी से अपनी वर्तमान जरूरतों के बारे में खुलकर बात करना चाहिए, ताकि आप दोनों एक बात पर सहमत हो सकें – सेक्स करें या नहीं। आखिरकार, शारीरिक अंतरंगता का अनुभव करने के लिए सेक्स ही एकमात्र तरीका नहीं है। कभी-कभी, चुंबन और आलिंगन भी आपको बेहतर महसूस करा सकते हैं।

यदि यौन समस्याएं आपके रिश्ते में बाधा बन रही हैं, तो आप हमेशा किसी सेक्स थेरेपिस्ट या सेक्सोलॉजिस्ट से सलाह ले सकते हैं।

 
 
 
 

क्या सेक्स करने से वजन कम हो सकता है?

मानो या न मानो, शोधों से पता चला है कि सेक्स करने से लगभग उतनी ही कैलोरी जल सकती हैं, जितनी जॉगिंग करने से जलती हैं।

हालाँकि यह अवांछित वजन को कम करने के लिए एक्सरसाइज का सबसे प्रभावी रूप नहीं है, लेकिन यह निश्चित रूप से आपके वजन घटाने के कार्यक्रम में अतिरिक्त मदद कर सकता है।

और बेशक, हमें यह बताने की आवश्यकता तो नहीं है कि आपको किसी भी परिस्थिति में सुरक्षित सेक्स का अभ्यास करना महत्वपूर्ण है।

रोज सेक्स करने से आप कितनी कैलोरी जला सकते हैं?

हाल के एक शोध से पता चला है कि एक 30 मिनट के सेक्स सत्र के दौरान:

  • पुरुष 120 कैलोरी तक जला सकते हैं
  • महिलाएं 90 कैलोरी तक जला सकती हैं

एक अन्य शोध से पता चला है कि 30 मिनट का जोरदार सेक्स के दौरान 150 कैलोरी तक जलाई जा सकती हैं, जो कि 15 मिनट की जॉगिंग के बराबर है।

बेशक, संभावना है कि आप हर बार इतने लंबे समय तक सेक्स नहीं करेंगे। हालांकि, सेक्स को हल्की से मध्यम शारीरिक गतिविधि माना जा सकता है।

कौन सी सेक्स पोजीशन सबसे ज्यादा कैलोरी जलाती हैं?

1. स्टैंडिंग

यह खड़े होकर सेक्स करने की पोजीशन है।

  • यह पोजीशन पैरों और कोर की मांसपेशियों को मजबूत करने में मदद कर सकती है।
  • यदि दोनों साथी खड़े हों, तो महिला लगभग 30 कैलोरी जला सकती है जबकि पुरुष 10 मिनट में लगभग 51 कैलोरी जला सकता है।
  • अगर पुरुष पूरे समय महिला को उठाये रहता है, तो वह 65 कैलोरी जला सकता है और महिला 40 कैलोरी जला सकती है।

2. आर्क

इस पोजीशन में सेक्स पार्टनर्स कैंची की तरह आर्क बनाकर सेक्स करते हैं। अधिकतम कैलोरी जलाने के लिए कौन सा आर्क बेहतर होता है, इसकी जानकारी आगे दी गई है।

  • यह पोजीशन15 मिनट में लगभग 60 कैलोरी जलाने में मदद कर सकती है।
  • अधिकतम कैलोरी जलाने के लिए महिला को अपने हाथों को सपाट रखते हुए अपनी पीठ के बल लेटना चाहिए, फिर अपनी पीठ और पैरों को ऊपर उठाकर एक आर्क बनाना चाहिए, जबकि पुरुष को अपने घुटनों पर होना चाहिए।
  • इस पोजीशन में पुरुषों की कोर, हैमस्ट्रिंग और क्वाड मसल्स मजबूत होंगी। महिलाओं की अपने कन्धों से लेकर पिंडली तक सभी मसल्स मजबूत होंगी।

3. काउगर्ल

काउगर्ल सेक्स पोजीशन में पुरुष पीठ के बल लेटा होता है, और महिला उसके ऊपर बैठी होती है। इस पोजीशन में सेक्स का पूरा कंट्रोल महिला के पास होता है।

  • जब कैलोरी जलाने की बात आती है, तो काउगर्ल महिलाओं के लिए सबसे अच्छी सेक्स पोजीशन है।
  • शोधों से पता चला है कि 30 मिनट के सत्र में महिलाएं लगभग 135 कैलोरी जला सकती हैं।
  • इस पोजीशन में महिला के पैरों के निचले हिस्से बिस्तर या फर्श पर लटके होते हैं, जिससे नितंबों, पैरों और कूल्हों की मांसपेशियों को एक्सरसाइज कराने में मदद मिल सकती है।

4. डॉगी स्टाइल

इस पोजीशन में महिला डॉगी की तरह खड़ी होती है, और पुरुष उसके पीछे से सेक्स करता है। डीप सेक्स करने की यह सबसे अच्छी सेक्स पोजीशन है।

  • इस पोजीशन में पुरुष अपनी मूल मांसपेशियों को मजबूत कर सकते हैं, और महिलाएं लगभग 84.38 कैलोरी जला सकती हैं।
  • दोनों पार्टनर अपनी कोर मसल्स के साथ-साथ पिंडलियों को भी मजबूत करेंगे। महिलाएं अपने हाथ और पैर की मांसपेशियों को भी संलग्न कर सकती हैं।
  • हालांकि, यह पोजीशन महिलाओं के लिए सबसे खतरनाक सेक्स पोजीशन में से एक भी है क्योंकि इससे योनि की दीवारें छिल सकती हैं, और इससे बचने के लिए उनके पास कंट्रोल नहीं होता।

5. मिशनरी

इस पोजीशन में महिला बिस्तर पर पीठ के बल लेटी होती है, और पुरुष उसके ऊपर पूरा आलिंगन देकर सेक्स करता है।

  • इस पोजीशन में महिला 10 मिनट के सेशन में लगभग 14 कैलोरी जला सकती है और पुरुष लगभग 47 कैलोरी जला सकते हैं।
  • हालांकि, इस सरल स्थिति को करते हुए अधिक ऊर्जा जलाने और कोर ताकत में सुधार करने के तरीके हैं।
  • एब क्रंचेस करने की तरह ही, पुरुष इस पोजीशन में अपनी कोर मसल्स को फ्लेक्स कर सकते हैं। वे संभोग के दौरान अपनी जांघों को भी स्ट्रेच कर सकते हैं।
  • महिलाएं अपनी पीठ के निचले हिस्से के बजाय श्रोणि क्षेत्र को ऊपर उठाकर, अपनी कोर की मांसपेशियों को मजबूत कर सकती हैं।

क्या सेक्स से किसी की मृत्यु हो सकती है?

हालांकि सेक्स से मौत की कुछ घटनाएं हो चुकी हैं, लेकिन इन मौतों के मामलों में से केवल 0.6% ही वास्तव में सेक्स के कारण होती हैं। इनमें से अधिकांश व्यक्तियों को कोई हृदय संबंधी समस्या थी, जो उनकी मृत्यु का कारण बनी। सेक्स में मृत्यु के अन्य जोखिम निम्न हैं:

  • सेक्स की एक गतिविधि सीढ़ी के दो से तीन डंडे चढ़ने के बराबर कैलोरी जलाती है। इसलिए, डॉक्टर बड़ी सर्जरी के बाद धीरे-धीरे सेक्स शुरू करने की सलाह देते हैं। यह उन रोगियों के लिए विशेष रूप से महत्वपूर्ण है जिनकी हाल ही में हृदय की सर्जरी हुई है या जिन्हें दिल का दौरा पड़ा है।
  • हृदय रोगियों के ऐसे मामले भी सामने आये हैं, जिनमें सेक्स ने उनकी धड़कनों को जानलेवा स्तर तक तेज कर दिया। इसलिए, अगर आप दिल के मरीज हैं और सेक्स करने से आपकी दिल की धड़कन तेज हो जाती है, सांस लेने में तकलीफ होती है, या थकान होती है, तो तुरंत अपने डॉक्टर को दिखाएँ।
  • यौन संचारित रोग जैसे एचआईवी एड्स, सिफलिस और गोनोरिया भी जानलेवा साबित हो सकते हैं।
  • खड़े लिंग को जबरदस्ती टेड़ा करने से उसमें फ्रैक्चर हो सकता है। दर्द अल्पकालिक हो सकता है, या यह जारी रह सकता है। लिंग की स्किन (हेमेटोमा) के नीचे रक्त फंस सकता है, जिससे लिंग में सूजन आ सकती है और वह काफी देर तक खड़ा रह सकता है। हालांकि लिंग का फ्रैक्चर किसी भी पोजीशन में हो सकता है, लेकिन उन पोजीशन में इसका ज्यादा खतरा रहता है जिसमें पूरा कंट्रोल महिला के पास हो, जैसे काउगर्ल। यह एक मेडिकल इमरजेंसी होती है, जिसका अगर 24 घंटे तक इलाज न किया जाए तो इससे लिंग में स्थायी क्षति और मूत्र संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.