लिंग को बड़ा करने वाले 8 जबरदस्त तेल के नाम

लिंग को बड़ा करने के लिए लिंग की आयल से मालिश करना सबसे सुरक्षित, सस्ता और आसान तरीका होता है। लिंग हृदय की तरह ही रक्त का एक गुच्छा होता है जिसमें जितना रक्त समा सके वह उतना ही बड़ा हो जाता है।

तेल से लिंग की मालिश करने से इसमें रक्त संचार बढ़ता है और वह अधिक लंबा मोटा और बड़ा हो जाता है। साथ ही, नियमित लिंग की मालिश करने से, इसकी रक्त को अधिक समय तक अंदर रोके रखने की क्षमता बढ़ती है, जिससे सेक्स के दौरान आपका वीर्य जल्दी नहीं गिरता और लंबे समय तक सेक्स करने में मदद मिलती है।

लिंग को बड़ा करने वाले 8 जबरदस्त तेल के नाम

यहाँ पर लिंग को बड़ा करने में मदद करने वाले 8 सबसे फायदेमंद लिंग वर्धक तेल के नाम दिए जा रहे हैं। इनसे नियमित मालिश करके आप अपने लिंग को मजबूत, कठोर, बड़ा और स्वस्थ कर सकते हैं।

चूँकि लिंग को पूर्ण लाभ देने के लिए मालिश करने का सही तरीका भी महत्वपूर्ण होता है, इसलिए इन आयल का इस्तेमाल करने से पहले, लिंग की मालिश करने के सही तरीकों को भी जान लें। इन तरीकों की पूरी जानकारी हमने नीचे दी है।

लिंग बड़ा करने वाले 8 प्राकृतिक आयल नाम

जैतून का तेल

जैतून का तेल

जैतून के तेल में कई पोषक पदार्थ जैसे विटामिन, मिनरल और आवश्यक ओमेगा फैटी एसिड्स प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। इसलिए लिंग की मालिश के लिए जैतून का तेल सबसे ज्यादा फायदेमंद और सुरक्षित होता है।

आप इसे बिना किसी संदेह या डर के अपने लिंग पर इस्तेमाल कर सकते हैं। यह आपके लिंग को भरपूर पोषक तत्व प्रदान करेगा और इसके रक्त संचार को बढ़ाने में मदद करेगा, जिससे आपके लिंग को बड़ा और मजबूत बनाने में मदद मिलेगी।

लैवेंडर का तेल

लैवेंडर आयल

लिंग की मांसपेशियों को मजबूत बनाने के लिए और उनमें रक्त संचार बढ़ाने के लिए लैवेंडर आयल सबसे फायदेमंद तेलों में से एक होता है।

कई शोधों से यह पता चला है कि लैवेंडर आयल कामोत्तेजना तो बढ़ाता है और साथ ही इसके शरीर पर आरामदायक और तनाव कम करने वाले प्रभाव भी होते हैं। यह शरीर के हॉर्मोंस को बैलेंस करने में भी मदद करता है।

लैवेंडर आयल काफी गाढ़ा होता है इसलिए इसे पतला करने के लिए कोई कैरीयर आयल जैसे जैतून का तेल मिला लें। फिर इसे लिंग पर लगाकर मालिश करें। इसे लगभग दो हफ़्तों तक नियमित इस्तेमाल करने से आपको देखने योग्य परिणाम मिलेंगे।

loading...

उपयोग करने का तरीका – सबसे पहले हॉट बाथ लें और फिर लैवेंडर आयल की कुछ बूंदों को जैतून के तेल में डालकर लिंग पर मालिश करें।

चंदन का तेल

चंदन का तेल

चंदन में मौजूद आराम प्रदान करने वाले और रोग हरने वाले गुण पूरी दुनिया में प्रचलित हैं। चंदन का तेल भी समान रूप से फायदेमंद होता है।

इसका नियमित इस्तेमाल करने से लिंग पर हर्बल प्रभाव होते हैं और यौन अंगों में रक्त संचार बढ़ता है जिससे लिंग बड़ा और मजबूत बनता है। साथ ही, यह शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने में भी मदद करता है

कुछ शोधों से यह बात भी सामने आई है कि चंदन का तेल शिश्न ग्रंथियों (पेनाइल ग्लैंड) को उत्तेजित करता है जिससे यौन अंगों में संवेदनशीलता और कामुकता के अनुभव को बढ़ाने में मदद मिलती है।

उपयोग करने का तरीका – रोज रात को सोने से पहले जैतून के तेल में चंदन का तेल मिलाकर लिंग की स्किन पर लगाएं।

रोजमेरी आयल

रोजमेरी आयल काफी दुर्लभ तेल होता है जो बाजार में आसानी से उपलब्ध नहीं होता। लेकिन यदि यह आपको मिल जाता है तो आप काफी किस्मत वाले हैं।

लिंग को कठोर और बड़ा करने के लिए रोजमेरी आयल को किसी कैरीयर आयल जैसे जैतून के तेल में थोड़ी सी मात्रा मिलाकर मालिश करें। इस तेल का इस्तेमाल करने से भी लिंग में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है और वह धीरे-धीरे मजबूत होता चला जाता है।

बादाम का तेल

बादाम एक ऐसा पदार्थ है जिसे खाया जाये या बाहर से स्किन पर लगाया जाये, यह दोनों ही परिस्थितियों में स्वास्थ्य के लिए काफी लाभकारी होता है।

बादाम में अत्यधिक मात्रा में मिनरल मौजूद होते हैं जिनमें सबसे मुख्य जिंक है। जिंक पूरे शरीर को पोषण प्रदान करने के साथ-साथ लिंग के स्वास्थ्य को ठीक करने में भी फायदेमंद होता है।

रोज अपने लिंग पर बादाम के तेल की मालिश करने से आप अपनी सेक्सुअल लाइफ को फिर से जवान बना सकते हैं।

ज्यादा से ज्यादा लाभ लेने के लिए मालिश करने के बाद तेल को थोड़ी देर लिंग पर ही लगा रहने दें। ऐसा करने से लिंग की स्किन मिनरल्स को अच्छे से अवशोषित कर लेती है।

दालचीनी की छाल का तेल

दालचीनी की छाल का तेल स्किन को पोषण प्रदान करता है, इसलिए हेल्थ और ब्यूटी प्रोडक्ट्स में इसका काफी इस्तेमाल किया जाता है।

साथ ही, यह शरीर में टेस्टोस्टेरोन के उत्पादन को बढ़ाता है और वीर्य की क्वालिटी और क्वांटिटी को बढ़ाने में मदद करता है। इसके अलावा दालचीनी को सेक्स इच्छा बढ़ाने, मूड ठीक करने और तनाव को कम में लाभकारी माना जाता है।

उपयोग करने का तरीका – रोज दालचीनी की छाल के तेल की दो बूंदों को आधा गिलास दूध में मिलाकर सेवन करें। ध्यान रखें इस तेल से लिंग की मालिश न करें क्योंकि इससे स्किन में जलन हो सकती है।

गुलाब का तेल

गुलाब के तेल में डोपामिन होता है जो तनाव को कम करता है और तंत्रिकाओं को शांत करने में मदद करता है।

इसलिए यह लिंग बड़ा करने, सेक्स स्टैमिना बढ़ाने और सेक्स टाइम बढ़ाने के लिए प्राकृतिक औषधि की तरह काम करता है।

साथ ही, इसकी सुहानी खुशबू आपकी सेक्स लाइफ में चार चाँद लगाने का काम करेगी।

उपयोग करने का तरीका – रात को सोने से पहले अपने लिंग को अच्छी तरह से पानी से साफ कर लें और फिर 30 मिलीलीटर जैतून के तेल में एक बूंद गुलाब का तेल और दो बूंद चंदन का तेल मिलाकर मालिश करें।

अदरक का तेल

सेक्स और रोमांस में अदरक का तेल काफी फायदेमंद होता है।

इसे एक प्रकार का कामोत्तेजक माना जाता है जिसका इस्तेमाल पुरुष और महिला दोनों अपनी कामत्तेजना बढ़ाने के लिए कर सकते हैं।

यह सेक्सुअल फंक्शन को नियंत्रित करता है और यौन अंगों में रक्त के प्रवाह को बढ़ाता है, इसलिए इसे नामर्दी दूर करने में काफी फायदेमंद माना जाता है।

loading...

कुछ शोधों से यह भी पता चला है कि अदरक का तेल शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने में भी मदद करता है।

उपयोग करने का तरीका – शुद्ध अदरक के तेल को जैतून के तेल में मिलाकर पतला कर लें और फिर लिंग पर मालिश करें। लेकिन इसका इस्तेमाल संतुलित मात्रा में ही करें क्योंकि इसके कारण लिंग की स्किन में जलन हो सकती है।

ऊपर दिए सभी प्राकृतिक तेल आपके लिंग को बड़ा करने में काफी मदद करेंगे। इसके अलावा कुछ अन्य प्राकृतिक तेल की सूची नीचे दी जा रही है जिनसे लिंग की मालिश की जा सकती है –

  • पुदीना का तेल
  • तुलसी का तेल
  • चमेली का तेल

बाजार में उपलब्ध लिंग वर्धक आयल

लिंग को बड़ा करने के लिए कई आयल उत्पाद बाजार में उपलब्ध होते हैं। लेकिन इनका चुनाव करने से पहले आपको कुछ बुनियादी बातों का ध्यान रखना है।

कोई भी आयल या सप्लीमेंट का इस्तेमाल करने से पहले हमेशा अपने डॉक्टर से सलाह लें। क्योंकि आयल उत्पाद में मौजूद कुछ सामग्रियाँ आपकी अन्य दवाओं के साथ रिएक्शन कर सकती हैं या इनके कुछ साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं।

जब डॉक्टर के जरिये आपको यह संतुष्टि हो जाये कि इसमें मौजूद किसी भी सामग्री से आपको एलर्जी नहीं होगी तो दूसरी बार सुनिश्चित करने के लिए एक सादा टेस्ट करें –

  • अपने लिंग की फोरस्किन के छोटे हिस्से पर थोड़ा सा आयल लगाएं।
  • अब इसके ऊपर एक बैंडेज या टैप लगा दें और 24 घंटों के लिए छोड़ दें।
  • इस दौरान यदि आपको अपने लिंग की स्किन पर जलन, लालिमा या सूजन नहीं होती है तो आप इस आयल को पूरे लिंग पर इस्तेमाल कर सकते हैं।

ऊपर के टेस्ट को पास करने के बाद आयल के पैकेट में दिए निर्देशों के अनुसार ही आयल का इस्तेमाल करें। निर्देशों में दी गई आयल की मात्रा से अधिक का इस्तेमाल कभी भी न करें।

साथ ही, सबसे जरूरी बात – हमेशा आयल को अपने लिंग की पेशाब नली के छिद्र से दूर रखें

इसके अलावा, तेल का इस्तेमाल करने से पहले अपने पार्टनर के स्वास्थय का भी ध्यान रखें। इस तेल में मौजूद किसी भी सामग्री से आपके पार्टनर को भी एलर्जी या साइड इफ़ेक्ट हो सकते हैं। यदि हो सके तो अपने साथ-साथ अपने पार्टनर के लिए भी डॉक्टर से सलाह लें।

यदि किसी भी तेल उत्पाद का इस्तेमाल करने के दौरान आपके या आपके पार्टनर के जनांगों में कोई भी असामान्य लक्षण दिखाई दें तो तुरंत इस तेल का इस्तेमाल करना बंद कर दें और मेडिकल सहायता लें।

लिंग को बड़ा करने के लिए फायदेमंद किसी भी विशिष्ट आयल उत्पाद का नाम बताना मुश्किल है। क्योंकि प्रत्येक व्यक्ति की मेडिकल स्थिति और एलर्जी अलग-अलग होती है।

इसलिए डॉक्टर ही आपकी हेल्थ स्थिति का सही निरिक्षण करके सही तेल की सलाह दे सकता है।

यदि आप चाहें तो पतंजलि का सांडे के आयल को अपने डॉक्टर से सलाह लेकर उपयोग कर सकते हैं।

लिंग वर्धक आयल, क्रीम या जेल उत्पादों में पाए जाने वाले बुनियादी पदार्थ

ज्यादातर लिंग वर्धक तेल, क्रीम या जेल उत्पाद, खासतौर से पतंजलि लिंग वर्धक आयल में प्राकृतिक पदार्थ होते हैं, इसलिए इनका उपयोग करना सुरक्षित होता है। यहाँ तक कि, आप इन उत्पादों को लिंग पर लगाने के बाद सेक्स भी कर सकते हैं।

लेकिन आपको इन उत्पादों को खरीदने से पहले यह सुनिक्षित करना है कि यह प्राकृतिक उत्पादों से ही बनें हों, क्योंकि कुछ उत्पादों में हानिकारक केमिकल्स भी हो सकते हैं।

इसका पता लगाने का सबसे आसान और कारगर तरीका होता है तेल बनाने वाली कंपनी की विश्वसनीयता और वास्तविक कस्टमर रिव्यु की जाँच करना।

लिंग बढ़ाने वाले उत्पादों में निम्नलिखित प्राकृतिक पदार्थ पाए जाते हैं –

  • आर्गिनन – इस एमिनो एसिड में भरपूर मात्रा में प्रोटीन होता है। यह पोषक पदार्थ प्रत्येक मनुष्य के मूलभूत स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होता है। इसके आलावा, आर्गिनन को इरेक्टाइल डिसफंक्शन (नामर्दी) का इलाज करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है क्योंकि यह कामोत्तेजना, सेक्स टाइम और लिंग बढ़ाने में मदद करता है।
  • वनस्पति पदार्थ – इन उत्पादों में सबसे मुख्य रूप से शुद्ध पानी, एलोवेरा जेल, जैतून का तेल, विटामिन, पेड़ की छाल, विभिन्न तेलीय बीज और फलों का रस होता है। यह सभी पदार्थ लिंग की स्किन में अवशोषित होकर पोषण प्रदान करते हैं।
  • आर्टिफीसियल फ्लावरिंग – सेक्स को ज्यादा सुखद बनाने के लिए इन उत्पादों में आर्टिफीसियल खुशबु और स्वाद भी डाला जाता है।

तेल से लिंग की मालिश करने का सही तरीका

  • सबसे पहले लिंग को अच्छी तरह से धोकर सुखा लें।
  • अब अपने लिंग की फोरस्किन को पीछे कर लें।
  • फिर तेल की निर्देशित मात्रा को लिंग पर लगाएं। कुछ पुरुषों को यह लगता है कि ज्यादा तेल लगाने से लिंग बढ़ाने में ज्यादा फायदा मिलेगा। लेकिन तेल की निर्देशित मात्रा से ज्यादा उपयोग करने पर इसके कई दुष्प्रभाव जैसे जलन, सूजन, चकत्ते आदि पड़ने की समस्या हो सकती है। यदि आप बाजार से खरीदे किसी आयल का इस्तेमाल कर रहे हैं तो इसके कवर पर दी गई मात्रा के अनुसार ही उपयोग करें।
  • तेल लगाने के बाद अपने हाथ की इंडेक्स फिंगर (तर्जनी) और अंगूठे से लिंग की धीरे-धीरे मालिश करें। कभी भी अपनी हथेली का इस्तेमाल न करें क्योंकि इससे आपकी कामोत्तेजना बढ़ सकती है और हस्तमैथुन करने की इच्छा जाग्रत हो सकती है। इस दौरान हस्तमैथुन करने से आपके लिंग को तेल का कुछ खास फायदा नहीं मिलेगा।
  • कम से कम 5 मिनट तक मालिश करते रहें जिससे लिंग की स्किन, आयल को अच्छी तरह से सोख ले।
  • अच्छे रिजल्ट पाने के लिए मालिश को हमेशा धीरे-धीरे और हल्के हाथों से ही करें।
  • मालिश करने के बाद कुछ घंटों के लिए लिंग को बाहर के ठंडे माहौल से दूर रहें। ऐसा करने के लिए आप लिंग पर कोई साफ पॉलीथिन बाँध सकते हैं या कंडोम पहन सकते हैं।

यदि यह जानकारी आपको अच्छी लगी हो या आपका कोई संदेह हो तो हमें नीचे कमेंट करके बताएँ। यदि आपको किसी अन्य तेल के इस्तेमाल करने का अनुभव हो तो उसे भी आप अन्य मेंबर्स के साथ शेयर कर सकते हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.