लिंग को रोज हिलाने से क्या होता है?

लिंग को हिलाकर आत्म-सुख प्राप्त करना स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है। लगभग सभी पुरुष कम उम्र में ही हस्तमैथुन करना शुरू कर देते हैं। यह एक प्राकृतिक प्रक्रिया है, जो अधिकांश पुरुष यौवनावस्था के चरण में प्रवेश करते समय अनुभव करते हैं।

लिंग हिलाने की प्रक्रिया दिन-प्रतिदिन आपके स्वास्थ्य में सुधार करेगी। लेकिन इसको ज्यादा हिलाने से शरीर में साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं।

हालाँकि हस्तमैथुन करना आपके सेक्स स्वास्थ्य के अच्छा होने का संकेत होता है, लेकिन फिर भी इसमें अत्यधिक संलग्न होना और इसे आदत बना लेना नुकसानदायक होता है।

हफ्ते में 3 से 4 बार लिंग हिलाना तो ठीक होता है, लेकिन अगर आप इसे दिन में दो बार करते हैं तो निश्चित रूप से आपको इसकी आदत हो गई है और इसके कारण आपकी शारीरिक व मानसिक स्थिति पर बुरा असर पड़ रहा होगा।

अब हम पुरुषों में रोज लिंग हिलाने के दुष्प्रभावों के बारे में चर्चा करेंगे:

कितनी बार लिंग हिलाना सामान्य होता है?

कई पुरुषों को यह नहीं पता होता है कि कितनी बार लिंग हिलाना सामान्य होता है? वह रोज नहीं तो हफ्ते में कई बार इस कार्य को करते हैं, जिससे उनमें कुछ समस्याएं हो सकती हैं।

हर पुरुष के लिए उसके लिंग हिलाने की बारम्बारता एक जैसी नहीं होती। कुछ पुरुष इसे रोजाना करते हुए भी स्वस्थ रह सकते हैं, जबकि कुछ इसे साप्ताहिक करते हैं और कुछ पुरुष महीने में एक बार।

लिंग हिलाना नुकसानदायक तब होता है, जब इसके कारण आपके अन्य रोजमर्रा के कामकाजों पर प्रभाव पड़ने लगता है, आपकी पर्सनालिटी खराब होने लगती है और इसे करे बिना आप रह नहीं पाते।

लिंग हिलाने के जरिये आत्म-सुख प्राप्त करना कोई बुरा कार्य नहीं है, जब तक कि आप इसे एक लिमिट तक करते रहें।

हालांकि, यह अलग-अलग पुरुषों पर निर्भर करता है कि उन्हें कितनी बार हस्तमैथुन करने की आवश्यकता है। लेकिन कुछ अध्ययनों में कहा गया है कि पुरुषों को एक महीने में औसतन 21 बार हस्तमैथुन करना चाहिए।

क्या लिंग हिलाना सेहत के लिए अच्छा है?

हाँ, पुरुषों के लिए सप्ताह में 3 से 4 बार हस्तमैथुन करना सुरक्षित है।

बहुत से पुरुष, खासकर युवा लड़के, यह सवाल पूछते हैं कि क्या हस्तमैथुन करना बुरा है?

इसका उत्तर नहीं, है क्योंकि हस्तमैथुन आपके स्वास्थ्य को प्रभावित नहीं करता है। बल्कि इसे लिमिट में करने से आपके मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद मिलती है।

इसके अलावा, यह आनंद पाने के सबसे सुरक्षित तरीकों में से एक है। क्योंकि इससे एचआईवी या अन्य यौन संचारित रोग होने का कोई खतरा नहीं है।

कोई भी पुरुष जितनी बार चाहे उतनी बार हस्तमैथुन कर सकता है, जब तक कि यह बुरी आदत न बने।

 
 
 
 

बार-बार लिंग हिलाने के दुष्प्रभाव क्या हैं?

कई पुरुष आत्म-सुख के लिए अत्यधिक हस्तमैथुन करते हैं। यह कई कुंवारे और युवा पुरुष, जिनकी कोई सेक्स पार्टनर नहीं होती, उनमें आसानी से एक लत बन जाती है।

हस्तमैथुन के बारे में अलग-अलग पुरुषों के अलग-अलग विचार होते हैं। कुछ लोगों को यह भी लग सकता है कि रोजाना हस्तमैथुन करना सही नहीं है। तो आइए अब हम हस्तमैथुन के बारे में कुछ भ्रांतियों पर नजर डालते हैं:

हस्तमैथुन के बारे में भ्रांतियां

हस्तमैथुन के बारे में कई भ्रांतियां फैली हैं, जिनपर अभी भी बहुत से पुरुष विश्वास करते हैं। अगर आपको हस्तमैथुन को लेकर भ्रम है, तो नीचे बताई गई भ्रांतियों पर विश्वास करना बंद कर दें:

1. जननांगों को नुकसान

यह कई पुरुषों के बीच एक गलत धारणा है कि बहुत अधिक हस्तमैथुन करने से लिंग और जननांगों को नुकसान पहुंचता है।

खैर, यह सच नहीं है क्योंकि लोग आत्म-सुख के लिए हस्तमैथुन करते हैं।

पुरुषों या महिलाओं में हस्तमैथुन का कोई बड़ा दुष्प्रभाव नहीं होता है। यदि आप रोजाना हस्तमैथुन करते हैं और अपने हाथ से लिंग के क्षेत्रों को रगड़ते हैं तो भी यह बिल्कुल ठीक है।

2. अनचाहे क्षेत्रों में बाल उगाता है

यह भी एक पूर्ण भ्रांति है जिस पर आपको विश्वास नहीं करना चाहिए।

यदि आप बहुत अधिक हस्तमैथुन भी करते हैं, तो भी शरीर के अवांछित क्षेत्रों में बालों का विकास नहीं होता है।

कई पुरुष सिर्फ इसलिए हस्तमैथुन करने से बचते हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि इससे अनचाहे बाल उग सकते हैं।

3. हस्तमैथुन मानसिक समस्याओं का कारण बनता है

कई पुरुषों को लगता है कि उनके दिमाग पर हस्तमैथुन करने का बुरा प्रभाव पड़ेगा।

लेकिन नहीं, यह सही नहीं है क्योंकि विभिन्न धार्मिक या पारिवारिक धारणाओं के कारण पुरुष को केवल अपराधबोध महसूस होता है, इससे ज्यादा कुछ नहीं।

बल्कि लिंग नियमित लिंग हिलाने से कुछ मानसिक समस्याओं जैसे डिप्रेशन और तनाव में राहत मिल सकती है।

हालाँकि, आपको सावधान रहना होगा कि बहुत अधिक हस्तमैथुन न करें या इसके आदि न हो जाएँ, क्योंकि इसके कारण आपका मानसिक ध्यान भटक सकता है, जिससे आपके अन्य कार्यों को करने की क्षमता पर बुरा असर पड़ सकता है।

4. रिश्ते में रहते हुए हस्तमैथुन करना गलत है

अपनी पार्टनर के साथ रिलेशनशिप में रहते हुए अगर आप रोजाना हस्तमैथुन करते हैं तो भी ठीक है।

कई पुरुष सोचते हैं कि हस्तमैथुन करना उनकी पार्टनर को धोखा देने जैसा होता है।

लेकिन सच तो यह है सेक्स से एक-दो घंटे पहले हस्तमैथुन कर लेने से सेक्स टाइम बढ़ाने में मदद मिलती है।

रोजाना लिंग हिलाने के दुष्प्रभाव क्या हैं?

रोज हस्तमैथुन करने से पुरुषों पर होने वाले दुष्प्रभावों पर कई शोध किये जा चुके हैं।

हर शोध के यही परिणाम निकलते हैं कि पुरुषों द्वारा अपना लिंग हिलाना आम बात है और इससे शरीर में हानिकारक दुष्प्रभाव नहीं होते।

हालाँकि रोज या अत्यधिक हस्तमैथुन करने के कुछ सीमित दुष्प्रभाव हो सकते हैं, जो निम्न हैं:

1. वीर्य जल्दी गिरने का कारण बन सकता है

अक्सर जब पुरुष रोज हस्तमैथुन करते हैं, तो इसे बहुत कठोरता से या जल्दबाजी में करते हैं।

अक्सर अत्यधिक कठोरता के कारण लिंग की नसें डैमेज हो सकती हैं। और जल्दबाजी करने से लिंग को जल्दी स्खलित हो जाने की आदात हो जाती है।

इससे आपको अपनी पार्टनर के साथ बिस्तर पर प्रदर्शन करते समय भी शीघ्रपतन हो सकता है।

इससे बचने का सबसे अच्छा तरीका होता है, लिंग को कोमलता से हिलाना और हस्तमैथुन में अपना पूरा समय देना।

2. थकान का कारण बनता है

जी हां, ज्यादा हस्तमैथुन करने से आपको थकान महसूस हो सकती है।

सप्ताह में 3 से 4 बार हस्तमैथुन करना ठीक रहता है। लेकिन इसे करने के बाद आप थका हुआ महसूस करेंगे।

इसके अलावा बहुत ज्यादा हस्तमैथुन करने से आप कमजोर भी हो सकते हैं।

3. पीठ के निचले हिस्से में दर्द का कारण बनता है

हस्तमैथुन करने से पीठ के निचले हिस्से में दर्द हो सकता है क्योंकि आप जिस पोजीशन में हस्तमैथुन करते हैं उससे पीठ और रीढ़ की हड्डी पर जोर पड़ता है। रोजाना हस्तमैथुन करने से पीठ के निचले हिस्से में भारी दर्द और रीढ़ की हड्डी को नुकसान हो सकता है।

4. आँखों की रौशनी में बदलाव

यह पुरुषों में हस्तमैथुन के सबसे बुरे दुष्प्रभावों में से एक है। रोजाना हस्तमैथुन करने से कुछ लोगों की नजर धुंधली हो सकती है। यह भविष्य में खराब दृष्टि का कारण भी बन सकता है।

5. लिंग में चोट लगना

रोजाना हस्तमैथुन करने से लिंग में चोट लग सकती है, क्योंकि इसके सुख में खो जाने के दौरान अक्सर हम अपने लिंग पर कठोरता कर बैठते हैं।

हाथों को कठोरता से उपयोग करने या जननांगों को रगड़ने से, उनमें चोट और घाव लग सकते हैं।

6. मानसिक ध्यान भंग करता है

यह पुरुषों में अत्यधिक हस्तमैथुन के सबसे बड़े नकारात्मक प्रभावों में से एक है। रोजाना हस्तमैथुन करने से आपका मानसिक ध्यान भंग होता है।

अगर यह आपके दिमाग में चला जाए तो यह आपके दैनिक कामों या ऑफिस के काम में खलल डालेगा।

कई पुरुष हस्तमैथुन करने के बाद अपनी परीक्षा या दैनिक कार्यों पर ध्यान केंद्रित नहीं कर पाते हैं।

7. प्रेम संबंधों में परेशानी हो सकती है

हालाँकि हस्तमैथुन आत्म-सुख प्राप्त करने का एक स्वस्थ और सुरक्षित तरीका होता है। लेकिन, कुछ पुरुष अत्यधिक हस्तमैथुन के कारण अपनी सेक्स पार्टनर के साथ बिस्तर में प्रदर्शन करते समय असहज महसूस कर सकते हैं, या उनका आत्मविश्वास कम हो सकता है।

कुछ पुरुषों का यह भी कहना है कि वे सेक्स के दौरान जल्दी स्खलित होने लगते हैं।

8. अंडकोषों में दर्द का कारण बन सकता है

कुछ मामलों में, रोजाना हस्तमैथुन करने से अंडकोष में तेज दर्द हो सकता है। जिसके फलस्वरूप, पुरुषों को सेक्स करते समय भी दर्द हो सकता है, और वह अच्छा प्रदर्शन देने में नाकामयाब हो सकते हैं।

 
 
 
 

रोजाना हिलाने पर काबू पाने के उपाय क्या हैं?

अगर आप भी इस आदत को छोड़ने के बारे में सोच रहे हैं, तो इससे निजात पाने के लिए कुछ उपाय आजमाएं। रोजाना हस्तमैथुन को रोकने के लिए आप कई तरह के उपाय आजमा सकते हैं।

1. थेरेपिस्ट से बात करें

कुछ थेरेपिस्ट और डॉक्टर दैनिक रूप से पुरुष समस्याओं का इलाज करते हैं, और उन्हें काफी अनुभव होता है। यदि आपको तीव्र हस्तमैथुन की समस्या है, तो किसी अच्छे थेरेपिस्ट से बात करें। आप किसी मनोवैज्ञानिक से भी चर्चा कर सकते हैं।

आप अपने यौन जीवन की उन सभी समस्याओं को थेरेपिस्ट के साथ साझा कर सकते हैं, जिनका आप अकेले सामना कर रहे हैं। हालाँकि इससे आपको थोड़ा अपराधबोध महसूस हो सकता है, लेकिन आपको अपनी समस्याओं का अच्छा समाधान मिल सकता है। साथ ही, ज्यादातर सेक्स थेरेपिस्ट काफी खुले विचारों वाले होते हैं और आपको असहज महसूस नहीं होने देते।

इसके अलावा, आप अपने व्यवहार को बदलने के लिए थेरेपिस्ट के साथ दीर्घकालिक संपर्क स्थापित कर सकते हैं।

2. अकेले ज्यादा समय न बिताएं

यदि आप अकेलेपन में ज्यादा समय बिताते हैं, तो आपके हस्तमैथुन करने की इच्छा बढ़ सकती है।

इस आदत से छुटकारा पाने के लिए आपको उस समय को सीमित करना होगा जो आप अकेले बिताते हैं।

अन्य गतिविधियों जैसे दोस्तों के साथ टहलना, लेखन, किताबें या उपन्यास पढ़ना आदि में व्यस्त रहें। ये गतिविधियाँ आपके समय और दिमाग को आत्म-आनंद से हटा देंगी।

3. योग करें

बहुत अधिक हस्तमैथुन करने का एक प्रमुख कारण होता है इच्छाओं में वृद्धि होना। तीव्र भावनाओं के कारण आप बहुत अधिक हस्तमैथुन की आदत से ग्रसित हो सकते हैं।

रोजाना योग करने से आपका दिमाग शांत होगा और तनाव व चिंता कम होगी।

एक ठंडा और शांत दिमाग आपको रोज हिलाने की आदत से छुटकारा पाने में मदद करेगा।

अपने अशांत मन को शांत करने के लिए आपको नियमित एक्सरसाइज भी करना चाहिए।

4. अपनी दैनिक दिनचर्या बदलें

कुछ लोग आदत हो जाने की वजह से रोजाना खुद को हस्तमैथुन करने से रोक नहीं पाते। अपनी दिनचर्या में बदलाव करके, आपके व्यवहार में बदलाव आएगा और आपको इस समस्या से जल्दी निजात पाने में मदद मिलेगी।

आखिरी शब्द

हमने चर्चा की कि अगर आप रोजाना लिंग हिलाते हैं, तो यह कितना बुरा हो सकता है। हालाँकि इसे करना सामान्य होता है, और लगभग सभी पुरुष इसे करते हैं, लेकिन शरीर में लाभ प्राप्त करने के लिए आपको इसे सीमा में करने की आवश्यकता है।

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.