लिंग से बदबू आने के 6 कारण और ठीक करने के तरीके?

आपके लिंग से गंध आना कोई असामान्य बात नहीं है। लेकिन अगर आपको लगता है कि गंध बदल गई है या बदबू हो गई है, तो यह एक अंतर्निहित स्थिति का संकेत हो सकता है।

लिंग में दुर्गंध की अधिकांश स्थितियां गंभीर नहीं होती और इनका आसानी से इलाज किया जा सकता है। उदाहरण के लिए, जिन पुरुषों का खतना नहीं हुआ है, उनकी फोरस्किन के नीचे डेड सेल्स, जिन्हें स्मेग्मा भी कहा जाता है, इकठ्ठा हो सकते हैं और उनमें बदबू आने लगती है। यह अक्सर खराब स्वच्छता का परिणाम होता है और इससे संक्रमण हो सकता है।

यौन संचारित संक्रमण भी बदबू पैदा कर सकते हैं।

लिंग में बदबू के क्या-क्या कारण हो सकते हैं, और आप इससे कैसे राहत पा सकते हैं, इसके बारे में अधिक जानने के लिए आगे पढ़ते रहें:

1. स्मेग्मा

स्मेग्मा लिंग की शाफ्ट के आसपास डेड सेल्स, नमी और तेल के मिश्रण को कहा जाता है। खतनारहित पुरुषों में इसका फोरस्किन के नीचे होना बहुत अधिक सामान्य है।

आपकी फोरस्किन के नीचे आमतौर पर चिकनाई की आवश्यकता होती है, इसलिए इसमें नियमित रूप ऑयली लुब्रीकेंट निकलता रहता है। लेकिन यदि आप इसे नियमित रूप से साफ नहीं करते हैं, तो यह लुब्रीकेंट डेड स्किन सेल्स और धूल के साथ मिलकर सफेद रंग का स्मेग्मा बनाता है, जिसमें बैक्टीरिया पनपने लगते हैं।

यदि लम्बे समय तक इसका उपचार न किया जाते, तो आपके लिंग में सूजन या संक्रमण हो सकता है।

आप क्या कर सकते हैं

अपने लिंग से स्मेग्मा को साफ करने के लिए निम्न स्टेप्स अपनाएं:

  • अपनी फोरस्किन को मुठ के पीछे खींचे।
  • अपने लिंग पर हल्की साबुन लगाएं।
  • अब हाथ से लिंग के मुठ को अच्छे से साफ करें। ज्यादा कठोरता से न रगड़ें।
  • एक बार जब स्मेग्मा अच्छे से साफ हो जाए, तो लिंग को पानी से धोकर अच्छे से सुखा लें।
  • फोरस्किन को अपने लिंग के ऊपर वापस चढ़ा दें।

एक बार जब स्मेग्मा धो दिया जाता है, तो बदबू गायब हो जानी चाहिए। यदि स्मेग्मा बार-बार बनता है, तो इन स्टेप्स को रोज दोहराएं।

यदि आपको लिंग में निम्नलिखित लक्षण दिखाई दें तो अपने डॉक्टर से मिलें:

  • लालिमा
  • सूजन
  • जलन
  • फोरस्किन का मुठ के पीछे न आना

2. मूत्रमार्ग संक्रमण

मूत्रमार्ग संक्रमण तब होता है जब आपके मूत्र पथ का कोई हिस्सा बैक्टीरिया या वायरस से संक्रमित हो जाता है।

यह संक्रमण अक्सर निम्न कारणों से होता है:

  • यौन क्रिया
  • आपके मूत्राशय से सारा पेशाब नहीं निकल रहा हो (मूत्र प्रतिधारण)
  • गुर्दे की पथरी
  • बड़ा हुआ प्रोस्टेट
  • मधुमेह
  • एक मूत्र कैथेटर का उपयोग करना

यदि आपमें मूत्रमार्ग संक्रमण होता है, तो आपके लिंग से मछली जैसी बदबू आ सकती है।

इसके अन्य लक्षण निम्न हैं:

खतनारहित पुरुषों में मूत्रमार्ग संक्रमण होने की सम्भावना अधिक होती है। हालाँकि ज्यादातर मामलों में मूत्रमार्ग संक्रमण एक गंभीर स्थिति नहीं होता, लेकिन समय पर इसका इलाज न कराने पर यह किडनी को संक्रमित कर सकता है।

आप क्या कर सकते हैं

यदि आपको मूत्रमार्ग संक्रमण होने का संदेह है, तो अपने डॉक्टर से मिलें। ओवर-द-काउंटर (बिना डॉक्टर के पर्चे की) दवाएं, जैसे कि फेनाज़ोपाइरीडीन, दर्द को दूर करने और डॉक्टर से मिलने तक संक्रमण को नियंत्रण में रखने में मदद कर सकती हैं।

एक बार संक्रमण की पहचान हो जाने के बाद, डॉक्टर संक्रमण के लिए एंटीबायोटिक्स लिखेगा। आम एंटीबायोटिक्स निम्न हैं:

  • फोसफोमाइसिन (fosfomycin)
  • सेफैलेक्सिन (cephalexin)
  • नाइट्रोफ्यूरन्टाइन (nitrofurantoin)

यदि आपको अक्सर मूत्रमार्ग संक्रमण होता रहता है, तो डॉक्टर कई महीनों तक एंटीबायोटिक दवाओं की कम खुराक लेने की सलाह दे सकता है।

 
 
 
 

3. खमीर संक्रमण

खमीर संक्रमण (यीस्ट इंफेक्शन) तब होता है जब आपके लिंग पर कैंडिडा नामक फंगस नियंत्रण से बाहर विकसित हो जाती है। फंगस की अतिवृद्धि आपके लिंग को “फफूंदी” गंध दे सकती है।

इसके अन्य लक्षण निम्न हैं:

  • लालिमा या जलन
  • खुजली
  • सफेद रंग के क्षेत्र बनना
  • लिंग की स्किन असामान्य रूप से नम, सफेद या चमकदार होना

अपने लिंग को पर्याप्त रूप से साफ न रखने के कारण खमीर संक्रमण हो सकता है, खासकर यदि आप खतनारहित हों। यह एक महिला साथी, जिसकी योनि में खमीर संक्रमण हो, के साथ यौन संबंध के माध्यम से भी फैल सकता है।

यदि अनुपचारित छोड़ दिया जाये, तो खमीर संक्रमण सूजन पैदा कर सकता है या और ज्यादा संक्रमण फैलने का कारण बन सकता है।

आप क्या कर सकते हैं

यदि आपको खमीर संक्रमण होने का संदेह है, तो अपने डॉक्टर से मिलें। वह फंगल संक्रमण को दूर करने वाली दवाएं लिखेगा, जैसे

  • फ्लुकोनाज़ोल (fluconazole)
  • माइकोनाज़ोल (miconazole)
  • क्लोट्रिमेज़ोल (clotrimazole)
  • इमिडाजोल (imidazole)

इनमें से कुछ दवाएं बिना डॉक्टर के पर्चे के भी मिल जाती हैं।

4. बैलेनाइटिस

बैलेनाइटिस तब होता है जब आपके लिंग के सिर (मुठ) में सूजन आ जाती है। यदि फोरस्किन में भी सूजन आ जाती है, तो इसे बालनोपोस्टहाइटिस कहा जाता है।

यह निम्न कारणों से हो सकता है:

  • असुरक्षित यौन संबंध बनाना
  • खराब स्वच्छता
  • स्मेग्मा बनना
  • सुगंधित या अधिक कठोर साबुन का इस्तेमाल
  • अन्य संक्रमण
  • सोरायसिस और खुजली जैसी स्किन की समस्याएं होना

इनमें से ज्यादातर कारणों से आपके लिंग से बदबू आ सकती है। इसके अन्य लक्षण निम्न हैं:

यदि आप खतनारहित हैं, तो आपमें बैलेनाइटिस होने की अधिक संभावना है। यदि इसे अनुपचारित छोड़ दिया जाता है, तो बैलेनाइटिस आपकी फोरस्किन को टाइट कर सकता है और उसकी लिंग के मुठ से पीछे हटने की क्षमता खत्म हो सकती है। इसे फाइमोसिस के नाम से जाना जाता है।

आप क्या कर सकते हैं

एप्सम सॉल्ट (मैग्निशियम सल्फेट) के पानी में स्नान करने से किसी भी दर्द या सूजन को शांत करने में मदद मिल सकती है।

यदि आपके लक्षण एक या दो दिन से अधिक समय तक बने रहते हैं, तो अपने डॉक्टर को दिखाएँ। वह आपमें मौजूद किसी अंतर्निहित कारण की जाँच कर सकता है और आपकी आवश्यकताओं के अनुकूल एक उपचार योजना प्रदान कर सकता है।

आम उपचार विकल्प निम्न हैं:

  • संक्रमण के लिए एंटीबायोटिक्स, जैसे बैकीट्रैसिन (bacitracin) / पॉलीमीक्सिन (polymyxin)
  • जलन के लिए मलहम या क्रीम, जैसे हाइड्रोकार्टिसोन (hydrocortisone)
  • फंगल संक्रमण के लिए एंटिफंगल क्रीम, जैसे क्लोट्रिमेज़ोल (clotrimazole)

5. गोनोरिया

गोनोरिया एक यौन संचारित संक्रमण है। यह किसी ऐसे व्यक्ति की योनि, गुदा या मुंह के संपर्क में आने से फैलता है जिसे पहले से यह संक्रमण हो। यह आपके लिंग के साथ-साथ आपके मलाशय और गले को भी प्रभावित कर सकता है।

गोनोरिया हमेशा लक्षण पैदा नहीं करता। यदि लक्षण होते हैं, तो आपके लिंग में बदबू आ सकती है, या निम्न लक्षण हो सकते हैं:

  • पेशाब करते समय जलन का अनुभव होना
  • लिंग से हरा, पीला या सफेद रिसाब निकलना
  • जननांगों या गुदा के आसपास दर्द, रक्तस्राव, या खुजली होना
  • शौच करते समय दर्द

आप क्या कर सकते हैं

अगर आपको लगता है कि आपको गोनोरिया है, तो तुरंत अपने डॉक्टर से मिलें। जाँच करने के बाद, डॉक्टर संभवतः सेफ्ट्रिएक्सोन (ceftriaxone) का एक इंजेक्शन देगा, और एक मौखिक दवा, जैसे एज़िथ्रोमाइसिन (azithromycin) या डॉक्सीसाइक्लिन (doxycycline) लिखेगा।

उपचार को पूरा होने में 7 दिन लगते हैं। आप इस दौरान भी संक्रमण फैला सकते हैं, इसलिए जब तक इसका इलाज पूरा नहीं हो जाता, तब तक आपको सेक्स करने से बचना चाहिए।

6. क्लैमाइडिया

क्लैमाइडिया भी एक यौन संचारित संक्रमण है। यह किसी ऐसे व्यक्ति के साथ योनि, मुख या गुदा सेक्स करने से फैलता है जो पहले से ही इससे संक्रमित है।

क्लैमाइडिया के भी हमेशा लक्षण पैदा नहीं होते हैं। यदि लक्षण मौजूद हैं, तो आपको लिंग में बदबू के साथ निम्न लक्षण दखाई दे सकते हैं:

  • पेशाब करते समय जलन होना
  • लिंग से असामान्य रिसाब
  • अंडकोषों में दर्द या सूजन

यदि अनुपचारित छोड़ दिया जाता है, तो क्लैमाइडिया आपके और आपकी साथी के लिए दीर्घकालिक प्रजनन समस्याएं पैदा कर सकता है।

आप क्या कर सकते हैं

अगर आपको लगता है कि आपको क्लैमाइडिया है, तो तुरंत अपने डॉक्टर से मिलें। जाँच करने के बाद, आपका डॉक्टर संक्रमण से लड़ने के लिए एक एंटीबायोटिक लिखेगा।

आम विकल्पों में निम्न शामिल हैं:

  • एज़िथ्रोमाइसिन (azithromycin)
  • डॉक्सीसाइक्लिन (doxycycline)
  • एमोक्सिसिलिन (amoxicillin)

उपचार पूरा होने में 7 दिन लगते हैं। आप इस दौरान भी संक्रमण फैला सकते हैं, इसलिए इलाज खत्म होने तक सेक्स करने से बचें।

 
 
 
 

7. मूत्रमार्ग शोथ

मूत्रमार्ग शोथ तब होता है जब आपका मूत्रमार्ग – जिसके जरिये मूत्र आपके शरीर से बाहर निकलता है – उसमें सूजन हो जाती है। इसे “गैर-गोनोकोकल मूत्रमार्ग शोथ” भी कहा जाता है, क्योंकि यह गोनोरिया के अलावा किसी और चीज के कारण होता है।

यह योनि, मौखिक या गुदा सेक्स से फैले बैक्टीरिया के कारण हो सकता है, और कुछ दुर्लभ मामलों में वायरस के कारण भी हो सकता है। क्लैमाइडिया इसके सबसे आम कारकों में से एक है, लेकिन अन्य जीव भी मूत्रमार्ग शोथ का कारण बन सकते हैं।

इसके आम लक्षण निम्न हैं:

  • लिंग की नोक पर दर्द या जलन होना
  • पेशाब करते समय जलन महसूस होना
  • लिंग से बादली, पीला, या कभी-कभी बदबूदार रिसाब निकलना

यदि अनुपचारित छोड़ दिया जाता है, तो मूत्रमार्गशोथ आपके अंडकोष या प्रोस्टेट ग्रंथि में फैल सकता है। इससे बांझपन हो सकता है।

आप क्या कर सकते हैं

यदि आपको मूत्रमार्ग शोथ होने का संदेह है, तो अपने डॉक्टर से मिलें। जाँच के बाद, डॉक्टर संक्रमण से लड़ने के लिए एंटीबायोटिक्स लिखेगा।

इसकी सामान्य एंटीबायोटिक दवाओं में एज़िथ्रोमाइसिन (azithromycin) और डॉक्सीसाइक्लिन (doxycycline) शामिल हैं। उपचार को पूरा होने में 7 दिन लगते हैं। आप इस दौरान संक्रमण फैला सकते हैं, इसलिए इलाज पूरा होने तक सेक्स करने से बचें।

बदबू से राहत पाने और पुनरावृत्ति को रोकने के तरीके

आप निम्नलिखित तरीकों को अपनाकर, अपने लिंग की बदबू को कम करने और पुनरावृत्ति को रोकने में सक्षम हो सकते हैं:

  • पेशाब करते समय अपनी फोरस्किन को मुठ के पीछे खींच लें। यह मूत्र को फोरस्किन के नीचे आने और जलन पैदा करने से रोकता है।
  • नियमित रूप से स्नान करें, और फोरस्किन के नीचे गंदगी या बैक्टीरिया के निर्माण को रोकने के लिए, उसे पीछे करके अच्छे से धोएं।
  • लिंग को सूखा रखने का प्रयास करें, खासतौर से फोरस्किन के नीचे के हिस्से को। रोज फोरस्किन को धोने के बाद उसे अच्छे से सुखाएं, और इसके बाद ही इसे लिंग के मुठ पर दोबारा चढ़ाएं।
  • ढीले, सूती अंडरवियर पहनें। इस प्रकार के अंडरवियर आपके जननांग क्षेत्र में हवा आने में मदद करते हैं ताकि पसीना, बैक्टीरिया और अन्य पदार्थ जमा न हों और बदबू या संक्रमण का कारण न बनें।
  • अपने जननांग बालों को छोटा रखें। लंबे बाल नमी, गंदगी और बैक्टीरिया को सह दे सकते हैं। अपने जननांग बालों को ट्रिमर के जरिये छोटा रखें, लेकिन इन्हें पूरी तरह से शेव न करें।
  • हर बार जब आप सेक्स करें तो कंडोम पहनें। यह यौन संचारित रोगों को फैलने से रोकने का एकमात्र कारगर तरीका है, जो लिंग में जलन या संक्रमण का कारण बन सकते हैं।
  • किसी ऐसे व्यक्ति के साथ यौन संबंध न बनाएं, जिसमें यौन संचारित संक्रमण के लक्षण, जैसे जननांग में दाने, पेशाब करते समय दर्द, रिसाब या अन्य असामान्य लक्षण हों।
  • सेक्स करने के बाद अपने लिंग को साफ करें। इससे आपके लिंग से बैक्टीरिया और जलन कारकों को दूर करने में मदद मिलती है।
  • सेक्स के दौरान पानी आधारित लुब्रीकेंट (चिकनाई) का उपयोग करें। थूक या तेल आधारित लुब्रीकेंट का उपयोग न करें, जो आपके लिंग में बैक्टीरिया फैला सकते हैं। आजकल बाजार में पानी-आधारित लुब्रीकेंट आसानी से उपलब्ध होते हैं।

डॉक्टर से कब मिलें

अच्छी स्वच्छता का अभ्यास करना आमतौर पर एक लिंग की असामान्य बदबू को दूर करने का बेस्ट तरीका होता है। आपके लिंग में कुछ प्राकृतिक गंध होना आम बात है, और आमतौर पर बदबू का कारण कोई अंतर्निहित चिकित्सा समस्या नहीं होती है।

लेकिन यदि आपको निम्न लक्षणों में से कोई अनुभव हों तो तुरंत डॉक्टर को दिखाएँ:

  • आपके लिंग के चारों ओर सफेद पदार्थ का निर्माण
  • आपके लिंग, जननांग क्षेत्र, गुदा, या जांघों के आसपास दाने या चकत्ते होना
  • पेशाब करते समय जलन या दर्द होना
  • लिंग से असामान्य रिसाब निकलना
  • लिंग में खुजली, लालिमा या सूजन होना

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.