पेनिस में तनाव बढ़ाने वाले 4 कैप्सूल के नाम

हममे से कौन अपने पेनिस के तनाव को नहीं बढ़ाना चाहता, खासकर वो जो नामर्दी और लिंग के ढीलेपन से झूझ रहे हैं।

इसीलिए इरेक्टाइल डिसफंक्शन के उपचारों का बाजार 2026 तक लगभग 34000 करोड़ तक पहुँचने की उम्मीद है।

पेनिस में तनाव बढ़ाने के लिए वियाग्रा और सियालिस जैसी दवाएं काफी लोकप्रिय हैं, लेकिन इनको लेने से पहले डॉक्टर की सलाह लेना आवश्यक होता और इनको ज्यादा लेने से कुछ दुष्प्रभाव भी हो सकते हैं।

वहीं दूसरी ओर कई ओवर-द-काउंटर आयुर्वेदिक कैप्सूल (जिन्हें बिना डॉक्टर के पर्चे के लिया जा सकता है) भी उपलब्ध हैं, जो न्यूनतम दुष्प्रभावों के साथ आपके पेनिस को प्राकृतिक रूप से कठोर और बड़ा करने में मदद कर सकते हैं।

यहाँ हम आपको विशेषज्ञों द्वारा अनुमोदित चार प्राकृतिक कैप्सूल के बारे में बताएँगे, जो सेक्स के दौरान आपके पेनिस के तनाव को बढ़ाने में मदद करेंगे।

1. ओमेगा-3

ओमेगा-3 सप्लीमेंट

ओमेगा -3 फैटी एसिड दिल के मरीजों के लिए काफी फायदेमंद होता है।

तो अब आप जानना चाहते होंगे, कि यह आपके पेनिस के लिए कैसे मददगार हो सकता है। तो आपको बता दें कि जो खाद्य पदार्थ और सप्लीमेंट आपके दिल के लिए फायदेमंद होते हैं वह आपकी पेनिस और सेक्स परफॉरमेंस के लिए भी फायदेमंद होते हैं। क्योंकि आपका पेनिस एक रक्त का गुच्छा मात्र होता है, जिसमें जितना ज्यादा रक्त भरता है, वह उतना ही ज्यादा बड़ा और कठोर हो जाता है। एक स्वस्थ दिल आपके पेनिस में रक्त प्रवाह को बढ़ाता है और रक्त वाहिकाओं को चौड़ा करता है।

साथ ही, आपके पेनिस में शरीर के अन्य अंगों के मुकाबले काफी पतली रक्त वाहिकाएं होती हैं, जिसका मतलब है इनमें आसानी से रुकावट आ सकती है। ओमेगा-3 रक्त के प्रवाह को बढ़ाकर इन रुकावटों को दूर कर सकता है।

यही कारण है कि ज्यादातर ब्लड प्रेशर की दवाओं के साइड इफ़ेक्ट के रूप में व्यक्ति को नामर्दी हो सकती है। क्योंकि यह दवाएं रक्त वाहिकाओं के खुलने और बंद होने के तरीके को नियंत्रित करती हैं, जिससे समग्र रूप से रक्त प्रवाह कम हो सकता है, खासकर पेनिस में।

इसके विपरीत, ओमेगा -3 फैटी एसिड रक्त वाहिकाओं को प्रभावित करने वाले इन्फ्लेमेशन और रक्त धक्कों को कम करता है। जिसके फलस्वरूप आपके पेनिस में रक्त प्रवाह को बढ़ाने में अतिरिक्त मदद मिल सकती है।

ओमेगा-3 फैटी एसिड प्राप्त करने का सबसे अच्छा तरीका होता है – वसायुक्त मछलियों का सेवन करना, लेकिन यह बाजार में सप्लीमेंट के रूप में भी उपलब्ध होता है, जिनको डॉक्टर की सलाह के बिना भी लेकर देखा जा सकता है।

ओमेगा-3 सप्लीमेंट ऑनलाइन खरीदें। इसके अलावा फिश आयल भी ओमेगा-3 का अच्छा स्रोत होता है।

2. एल-आर्जिनाइन

एल-आर्जिनाइन

एल-आर्जिनाइन जो कि एक आवश्यक एमिनो एसिड होता है, भी रक्त प्रवाह बढ़ाने के सबसे बेस्ट कैप्सूल में से एक है। इसलिए यह दिल के स्वास्थ्य और यौन कामकाज के लिए फायदेमंद हो सकता है।

2017 के एक शोध में पाया गया है, कि गंभीर या पूर्ण नामर्दी से ग्रसित पुरुषों में एल-आर्जिनाइन का स्तर काफी कम था। शोध के परिणाम में शोधकर्ताओं ने बताया कि एल-आर्जिनाइन शरीर में नाइट्रिक ऑक्साइड के उत्पादन को ट्रिगर करने में मदद कर सकता है। नाइट्रिक ऑक्साइड एक यौगिक होता है, जो कि पेनिस को खड़ा करनेलम्बे समय तक खड़ा बनाये रखने में मदद करता है।

अमेरिका की मायो क्लिनिक के अनुसार, एल-आर्जिनाइन अधिकांश प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थों जैसे रेड मीट, अंडे, दालें और डेयरी उत्पादों में पाया जाता है। मायो क्लिनिक ने एल-आर्जिनाइन के कैप्सूल को भी आम तौर पर सुरक्षित होना बताया है।

लेकिन जो लोग ब्लड प्रेशर की दवायें खा रहे हैं, उन्हें एल-आर्जिनाइन के कैप्सूल लेने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। ऐसा इसलिए है क्योंकि एल-आर्जिनाइन आपके हाई ब्लड प्रेशर को कम कर सकता है – जो कि बहुत अच्छा है, लेकिन यदि आप पहले से ही दवाओं के जरिये इसे कम रखते हैं, तो एल-आर्जिनाइन के कारण आपका ब्लड प्रेशर काफी ज्यादा कम हो सकता है।

एल-आर्जिनाइन के कैप्सूल किसी भी मेडिकल स्टोर पर या ऑनलाइन उपलब्ध होते हैं। शुरुआत में इसके डोज को लगभग 2000 मिलीग्राम प्रतिदिन रखें, और देखें कि आपके शरीर पर इसका क्या प्रभाव होता है।

कुछ लोगों में एल-आर्जिनाइन के दुष्प्रभाव के रूप में जी मचलना, पेट दर्द, दस्त या पेट फूलने की समस्या हो सकती है।

 
 
 
 

3. एल-सिट्रुलिन

एल-सिट्रीलाइन

एल-आर्जिनाइन के अलावा, एल-सिट्रुलिन भी शरीर में नाइट्रिक ऑक्साइड के उत्पादन में सहायता कर सकता है।

पिछले दो दशक से भी ज्यादा समय से, हम पेनिस खड़ा करने के लिए नाइट्रिक ऑक्साइड की महत्वपूर्ण भूमिका को जानते हैं। 1999 के एक शोध के अनुसार, “नाइट्रिक ऑक्साइड (NO), जो कि शरीर की कैवर्नोसल नसों और एंडोथेलियम दोनों में उत्पन्न होता है, को पेनिस खड़ा करने की शरीर की क्रिया में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते पाया गया है।”

2001 में प्रकाशित एक शोध में कहा गया है, “नाइट्रिक ऑक्साइड एक मुख्य एजेंट है, जो पेनिस की मांसपेशियों को रिलैक्स करने के लिए जिम्मेदार होता है, जिससे पेनिस की रक्त वाहिकाओं को फैलने और चौड़ा होने में मदद मिलती है।” (पेनिस खड़ा होने में रक्त वाहिकाओं का चौड़ा होना और इनमें ज्यादा से ज्यादा रक्त समाना आवश्यक होता है।)

अक्सर बाजार में एल-सिट्रुलिन और एल-आर्जिनाइन के मिश्रित कैप्सूल उपलब्ध होते हैं, जिन्हें आप किसी भी मेडिकल स्टोर से खरीद सकते हैं, या ऑनलाइन गूगल पर सर्च कर सकते हैं।

4. विटामिन डी

विटामिन डी

पेनिस में तनाव बढ़ाने और सेक्स को बेहतर बनाने में मदद करने के लिए सिर्फ रक्त प्रवाह को बढ़ाना ही एकमात्र तरीका नहीं है, बल्कि आपके मूड से भी एक बड़ा फर्क पड़ता है। यहीं पर विटामिन डी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है।

2014 के एक बड़े-विश्लेषण के अनुसार, विटामिन डी के कैप्सूल आपमें डिप्रेशन के लक्षणों को सुधारने का एक प्रभावी तरीका है, क्योंकि यह यौगिक आपके दिमाग में कुछ मूड-संबंधित ट्रांसमीटरों को विनियमित करने में मदद करता है।

डिप्रेशन के कारण किसी भी व्यक्ति की यौन इच्छा में कमी आ सख्त है, इसलिए अपने डिप्रेशन पर नियंत्रण पाना आपके पेनिस और यौन जीवन के लिए महत्वपूर्ण है।

साथ ही, कुछ शोधों ने यह भी अनुमान लगाया है कि विटामिन डी की कमी वाले पुरुषों में पेनिस ठीक से खड़ा न होने की संभावना अधिक होती है। ऐसा इसलिए हो सकता है क्योंकि विटामिन डी की कमी का सीधा संबंध हाई ब्लड प्रेशर, धमनी रोग और रक्त संचार में कमी से होता है।

हालाँकि आप धूप सेंकने और अंडों जैसे खाद्य पदार्थों के सेवन से थोड़ा विटामिन डी प्राप्त कर सकते हैं, लेकिन पर्याप्त विटामिन डी प्राप्त करने के लिए इनके कैप्सूल लेना जरूरी हो सकता है।

आपमें जितने अधिक समय तक विटामिन डी का निम्न स्तर बना रहेगा, संभावित रूप से नामर्दी की समस्या भी उतनी ही ज्यादा गंभीर होगी।

लेकिन आपको नियमित रूप से कितना विटामिन डी लेने की आवश्यकता है? अमेरिका के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के अनुसार पुरुषों को प्रतिदिन कम से कम 600 IU विटामिन डी लेना चाहिए, और एंडोक्राइन सोसाइटी के अनुसार रोजाना 2,000 IU से ज्यादा नहीं लेना चाहिए।

हालाँकि आप डॉक्टर से जाँच कराके अपने विटामिन डी के स्तर के स्तर का पता लगा सकते हैं, और उसके अनुसार विटामिन डी के डोज ले सकते हैं।

विटामिन डी के कैप्सूल ऑनलाइन खरीदने के लिए यहाँ क्लिक करें

निष्कर्ष

सामान्य तौर पर, अपने पेनिस में तनाव बढ़ाने के लिए ऊपर दिए गए कैप्सूल लेने के साथ-साथ आपको अपनी जीवनशैली में बदलाव लाना भी आवश्यक होगा। जैसा कि आपने हजारों बार सुना है, एक स्वस्थ आहार, नियमित व्यायाम, अच्छी नींद की आदतें, और तनाव के निम्न स्तर, यह सभी आपके स्वास्थ्य को बेहतर बनाने की दिशा में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

जब आपका शरीर बेहतर बेहतर आकार और स्थिति में होता है, तो आपकी पेनिस खड़ा करने और खड़ा बनाए रखने की क्षमता पर इसका बड़ा प्रभाव पड़ता है।

अपने पेनिस के तनाव को बढ़ाने के लिए, किसी भी मेडिकल स्टोर जाकर कुछ कैप्सूल लेकर खाना निश्चित रूप से बहुत ही आसान है। लेकिन इनकी प्रभावशीलता को लम्बे समय तक बनाये रखने के लिए, आपको अपनी जीवनशैली को स्वस्थ बनाये रखने और बुरी आदतों से छुटकारा पाने की आवश्यकता होगी।

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.