क्या पीरियड्स के दौरान सेक्स करने से गर्भावस्था हो सकती है?

यदि आप गर्भवती होने (या नहीं होने) की कोशिश कर रही हैं, तो अपने मासिक चक्र पर नजर रखना महत्वपूर्ण है। यह आपको सबसे उपजाऊ दिनों का अंदाजा लगाने में मदद करेगा जब आप अधिक आसानी से गर्भधारण कर सकती हैं।

प्रजनन से सम्बंधित एक आम अवधारणा यह है कि एक महिला अपने पीरियड्स के दौरान गर्भवती नहीं हो सकती है। हालाँकि पीरियड्स के दिनों में गर्भावस्था की संभावना कम होती है, लेकिन ऐसा नहीं है कि इसकी सम्भावना बिलकुल भी न हो।

यहाँ हम आपको पीरियड्स के दौरान प्रजनन क्षमता और सेक्स करने के बारे में पूरी जानकारी देंगे।

गर्भाधान कैसे होता है?

गर्भधारण करने की क्षमता एक चमत्कारी प्रक्रिया है। इसके लिए पुरुष के शुक्राणु का महिला के अंडे से मिलना आवश्यक है। एक बार जब एक महिला का अंडाशय एक अंडा छोड़ता है, तो अंडा केवल 12 से 24 घंटों के बीच जीवित रहता है। शुक्राणु योनि में लगभग तीन दिनों तक जीवित रह सकते हैं।

एक सामान्य महिला का मासिक चक्र 28 दिनों का होता है। पहला दिन वह है जब उसके पीरियड्स शुरू होते हैं। आमतौर पर लगभग 14 दिनों में महिला का अंडा बनकर तैयार होता है और फर्टिलाइजेशन के लिए तैयार हो जाता है (लेकिन यह अवधि लगभग 12, 13 या 14 दिन हो सकती है)।

अंडे का बनकर गर्भाशय में निकलने की प्रक्रिया को ओवुलेशन कहा जाता है। यदि इस दौरान गर्भाशय में शुक्राणु मौजूद होते हैं तो फर्टिलाइजेशन हो सकता है और महिला गर्भवती हो सकती है।

ओवुलेशन की सटीक समय सीमा महिला के चक्र के आधार पर भिन्न-भिन्न हो सकती है। उदाहरण के लिए कुछ महिलाओं में मासिक धर्म लगभग 35 दिनों में आता है। इस स्थिति में ओवुलेशन 21 दिन के आसपास होगा। ऐसे ही जिन महिलाओं का मासिक धर्म 21 दिनों में आता है उनमें 7 दिन के आसपास ओवुलेशन होता है।

मासिक धर्म के दौरान महिला गर्भवती कैसे हो सकती है?

मासिक धर्म के दौरान गर्भावस्था की प्रक्रिया के बारे में गहराई से जानने से पहले, आपको यह निश्चित करना आवश्यक है कि आपका मासिक धर्म कब शुरू होता है। ओवुलेशन के दौरान भी महिला को रक्तस्राव हो सकता है, और अक्सर महिलायें इसे अपने पीरियड्स की शुरुआत समझ लेती हैं, जबकि इस दौरान महिला सबसे ज्यादा फर्टाइल होती है। इसलिए इस दौरान असुरक्षित सेक्स करने से महिला के गर्भवती होने की सम्भावना काफी ज्यादा बढ़ जाती है।

एक सामान्य महिला का मासिक चक्र 28 से 30 दिनों का होता है। इस हिसाब से पीरियड्स शुरू होने के लगभग 12 से 14 दिनों तक वह ओवुलेशन नहीं करेगी। इसके अलावा पुरुष के शुक्राणु लगभग 3 दिनों तक गर्भाशय में जीवित रह सकते हैं। इसे यदि महिला की ओवुलेशन अवधि से घटाकर देखा जाये तो 9 से 11 दिन होते हैं। यानि एक सामान्य महिला के पीरियड्स शुरू होने के लगभग 8 दिनों तक सेक्स करने से गर्भावस्था की सम्भावना कम होती है। और दिन बढ़ने के साथ-साथ यह सम्भावना बढ़ती जाती है।

जिन महिलाओं का मासिक चक्र 28 दिन से कम का होता है, उनमें पीरियड्स शुरू होने और ओवुलेशन के बीच का समय भी कम होता है। इसलिए आपको सबसे पहले अपने मासिक चक्र की अवधि का पता लगाना महत्वपूर्ण है।

कुछ महीनों के गहन परिक्षण से आपको अपने औसत मासिक चक्र की अवधि का पता लगाने में मदद मिल सकती है।

 
 
 
 

मासिक धर्म के दौरान एक महिला के गर्भवती होने की कितनी संभावना है?

एक महिला के गर्भवती होने की संभावना उसके मासिक चक्र शुरू होने पर बढ़ना शुरू हो जाती है और ओवुलेशन तक बढ़ती है। ओवुलेशन के 24 से 72 घंटे के बाद यह सम्भावना घटना शुरू हो जाती है और अगले पीरियड्स शुरू होने तक घटती रहती है।

हालाँकि एक औसत महिला का मासिक चक्र 28 दिनों के आसपास का होता है, लेकिन हर एक महिला के शरीर के काम करने की प्रक्रिया अलग-अलग होती है और उसकी मासिक चक्र की अवधि 20 से 40 दिन के बीच कहीं भी हो सकती है।

पीरियड्स का रक्तस्राव शुरू होने के बाद एक से दो दिन तक एक महिला के गर्भवती होने की संभावना लगभग जीरो होती है। इसके बाद यह सम्भावना हर एक गुजरते दिन के साथ बढ़ना शुरू हो जाती है, फिर भले ही अभी भी महिला को पीरियड्स का रक्स्राव हो रहा हो।

पीरियड्स शुरू होने के लगभग 13वें दिन, महिला के गर्भधारण की संभावना अनुमानित 9 प्रतिशत होती है। भले ही यह सम्भावना देखने में कम लगती हो, लेकिन एक अंडे को फर्टिलाइज करने के लिए करोड़ों शुक्राणुओं में से केवल एक शुक्राणु की आवश्यकता होती है, इसलिए आप मासिक चक्र के किसी भी समय 100 प्रतिशत आश्वस्त नहीं हो सकती कि इस दौरान असुरक्षित सेक्स करने पर आप गर्भवती नहीं होंगी।

जन्म नियंत्रण सावधानियां

यदि आप गर्भवती होने की कोशिश कर रही हैं, तो पीरियड्स के दौरान सेक्स करने से आपको गर्भधारण करने में मदद नहीं मिलेगी, जब तक कि आपका मासिक धर्म 28 दिनों से कम का न हो। हालाँकि पीरियड्स में भी गर्भधारण की सम्भावना होती है, लेकिन काफी कम।

यदि आप गर्भधारण से बचने की कोशिश कर रही हैं, तो आपको हर बार सुरक्षित सेक्स करना महत्वपूर्ण है। सेक्स में आप किसी भी प्रकार के गर्भनिरोधक जैसे कंडोम पहनना या गर्भनिरोधक गोलियों का उपयोग कर सकती हैं।

हालाँकि गर्भनिरोधक गोलियां यौन संचारित रोगों जैसे हरपीज, गोनोरिया या क्लैमाइडिया के खिलाफ सुरक्षा प्रदान नहीं करतीं। इसलिए अपने आप को अवांछित संक्रमणों से बचाने के लिए, पुरुष कंडोम एकमात्र कारगर तरीका है।

निष्कर्ष

हर महिला का मासिक चक्र अलग-अलग हो सकता है, इसलिए सैद्धांतिक रूप से यह संभव है कि आप पीरियड्स के दौरान गर्भवती हो सकती हैं। पीरियड्स के शुरुआती दिनों में गर्भावस्था की संभावना कम होती है, बाद के दिनों में संभावना बढ़ती जाती है।

यदि आप गर्भधारण करने की कोशिश कर रही हैं और एक साल तक असुरक्षित यौन संबंध बनाने के बाद भी गर्भधारण नहीं हुआ है, तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें। गर्भधारण न होने के कई कारण हो सकते हैं, जिसमें पुरुष और महिला दोनों में से किसी में भी कोई समस्या हो सकती है। डॉक्टर विभिन्न जांचों के जरिए आपमें समस्या का पता लगाने और सही उपचार विकल्प प्रदान करने में मदद कर सकता है।

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.