स्पर्म काउंट बढ़ाने के लिए खाएं यह 14 खाद्य पदार्थ

2020 में कनाडा में हुई एक शोध समीक्षा के अनुसार पिछले 40 वर्षों में पुरुषों के स्पर्म की औसत संख्या में लगातार गिरावट देखी गई है।

कई कारण हैं जो पुरुषों के स्पर्म काउंट को प्रभावित करते हैं, जैसे पोषण की कमी या कम टेस्टोस्टेरोन का स्तर। इसमें, पोषण सबसे महत्वपूर्ण चीज है जो शुक्राणुओं की संख्या को प्रभावित करता है।

क्या आप जानते हैं कि आप जो भी खाते हैं उसका सीधा असर आपके स्पर्म काउंट और क्वालिटी पर पड़ता है? साथ ही, तनाव से भरी आज की दुनिया में पुरुष बांझपन सबसे आम मुद्दों में से एक बन गया है।

एक स्वस्थ और संतुलित आहार का पालन करने से आपके स्पर्म को अच्छा पोषण मिल सकता है, और इसके परिणामस्वरूप, आपके स्पर्म की गुणवत्ता में सुधार आ सकता है और आपकी प्रजनन क्षमता बढ़ सकती है।

कुछ शोधों से पता चलता है कि आपके खाने की आदतें, आपके स्पर्म की गुणवत्ता को प्रभावित कर सकती हैं। कुछ खाद्य पदार्थ स्पर्म की संख्या, वनावट और गतिशीलता में सुधार करने में मदद कर सकते हैं। आइए जाने इन 14 खाद्य पदार्थों के बारे में, जिन्हे खाने से स्पर्म ज्यादा बनता है:

1. डार्क चॉकलेट

डार्क चॉकलेट एक लोकप्रिय कामोत्तेजक खाद्य पदार्थ तो है ही, साथ ही यह एक बेहतरीन स्पर्म बूस्टर भी होती है।

डार्क चॉकलेट को कोको बीन्स को प्रोसेस करके बनाया जाता है। यह स्पर्म काउंट बढ़ाने वाले सबसे स्वादिष्ट खाद्य पदार्थों में से एक है।

डार्क चॉकलेट में मौजूद एल-आर्जिनाइन यौगिक शुक्राणु और वीर्य की मात्रा को काफी हद तक दोगुना करने में मदद करता है। यह संभोग सुख में भी सुधार कर सकता है।

हालाँकि, यह शुगर से भी भरपूर होती है, इसलिए इसका अत्यधिक सेवन न करें।

चॉकलेट जितनी ज्यादा डार्क होती है, उतनी ही ज्यादा फायदेमंद होती है। हफ्तों तक नियमित रूप से चॉकलेट खाने से शुक्राणुओं की गति में तेजी से सुधार हो सकता है। तो यदि आपको बच्चा पैदा करने में समस्या आ रही है, तो भी आप डार्क चॉकलेट का सेवन कर सकते हैं।

2. विटामिन सी

विटामिन सी विभिन्न फलों और सब्जियों जैसे संतरा, टमाटर, पत्ता गोभी और ब्रोकोली में पाया जाता है। संतरा विटामिन सी के सबसे बड़े स्त्रोतों में से एक होता है। यह शुक्राणुओं का आकार, गतिशीलता और संख्या में सुधार करने में मदद कर सकता है।

विटामिन सी शरीर के लिए भी एक आवश्यक एंटीऑक्सीडेंट होता है। यह आपके शरीर की कोशिकाओं को फ्री रेडिकल्स और ऑक्सीडेटिव तनाव से क्षतिग्रस्त होने से बचाता है। यह शुक्राणुओं के डीएनए को रेडिकल क्षति से बचाकर, उन्हें स्वस्थ बनाए रखने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

इसकी पूरी जानकारी यहाँ दी गई है।

3. केसर

भारत में केसर अपने कामोत्तेजक गुणों के लिए काफी प्रचलित है। इस स्पर्म बूस्टर फूड को क्रोकस सैटिवस नामक फूल से निकाला जाता है। यह वजन के हिसाब से सबसे महंगे मसालों में से एक है।

केसर डिप्रेशन के इलाज, मूड को बढ़ाने और तनाव को कम करने में भी उपयोगी है।

दिलचस्प बात यह है कि केसर का उपयोग पुरुष प्रजनन क्षमता के कई पहलुओं जैसे यौन क्रिया और शुक्राणु स्वास्थ्य के लिए किया जाता रहा है।

शोधों के अनुसार, जो पुरुष लगभग 4 सप्ताह तक हर दिन 30 मिलीग्राम केसर खाते हैं, उन्हें अपनी यौन क्रिया में काफी सुधार देखने को मिलता है।

4. केला

केला विटामिन ए, सी और बी1 के सबसे बड़े स्रोतों में से एक होता है। ये सभी विटामिन स्पर्म काउंट बढ़ाने और स्वस्थ शुक्राणु कोशिकाओं का उत्पादन करने में मदद करते हैं। इसमें मैग्नीशियम भी होता है जो आपके शरीर को शुक्राणु की गतिशीलता में सुधार करने में मदद करता है।

केले में ब्रोमलेन (Bromelain) नामक एक एंजाइम भी मौजूद होता है, जो आपके शरीर को इन्फ्लेमेशन से बचाने और स्पर्म की गुणवत्ता व मात्रा में सुधार करने में मदद कर सकता है।

इसके अलावा, इस महान फल में ऐसे गुण होते हैं जो आपकी सहनशक्ति (स्टैमिना) व मूड में सुधार करते हैं और आपके इम्यून सिस्टम को बढ़ावा देते हैं।

 
 
 
 

5. फलियां और दालें

यदि आप अपनी प्रजनन क्षमता बढ़ाना चाहते हैं, तो फोलेट (folate) आपके लिए सबसे आवश्यक तत्वों में से एक होगा। और फलियां व दालें फोलेट का एक बड़ा स्रोत होती हैं।

शोध के अनुसार, यह पाया गया है कि जिन पुरुषों में फोलेट की मात्रा कम होती है उनके शुक्राणुओं में गुणसूत्र संबंधी असामान्यताएं (chromosomal abnormalities) होने की संभावना अधिक होती है।

चूँकि फलियों और दालों में फाइबर और प्रोटीन की मात्रा भी अधिक होती है, इसलिए यह आपके ओवुलेशन को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है।

शोधों से पता चलता है कि फाइबर और प्रोटीन के प्राकृतिक स्त्रोत, ओवुलेशन में होने वाली रुकावटों के कारण होने वाले बाँझपन को रोक सकते हैं। इसलिए फोलेट आपके गर्भाधान और भ्रूण के स्वस्थ विकास में मददगार साबित हो सकता है।

6. अनार का रस

आमतौर पर अनार के बीजों को बाँझपन की समस्याओं में फायदेमंद माना जाता है। साथ ही अनार के और भी फायदे हैं, क्योंकि इसमें उच्च स्तर के एंटीऑक्सीडेंट होते हैं। यह पुरुषों में स्पर्म को ज्यादा बनाकर और उनकी गतिशीलता बढ़ाकर पुरुष बाँझपन को ठीक करने में मदद कर सकता है।

अनार जिंक जैसे पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इसलिए यह शुक्राणुओं की संख्या और गुणवत्ता में भी सुधार कर सकता है। जिंक आपके शरीर की प्रतिरोधक क्षमता में सुधार के लिए भी जाना जाता है।

आंकड़ों के अनुसार, एक कप अनार के रस में रोजाना शरीर के लिए जरूरी लगभग 30 प्रतिशत विटामिन सी और 16 प्रतिशत फोलिक एसिड होता है।

7. सीप

पुरुष प्रजनन क्षमता के क्षेत्र में सीप भी एक लोकप्रिय खाद्य पदार्थ है। यह आपके स्पर्म की गतिशीलता और कामेच्छा को तेजी से बढ़ा सकता है।

पुरुष प्रजनन क्षमता के लिए इसके लाभों के पीछे मुख्य कारण यह है कि यह जिंक से भरपूर होता है। जिंक वीर्य और टेस्टोस्टेरोन के उत्पादन में एक आवश्यक तत्व होता है।

यह पुरुषों के बांझपन और ओव्यूलेशन की समस्याओं में भी मदद कर सकता है।

आपके प्रजनन तंत्र को स्वस्थ रखने और ठीक से काम करने में आपकी मदद करने के लिए, प्रति दिन 8 मिलीग्राम जिंक का सेवन करने की सलाह दी जाती है। सीप इस मात्रा को आसानी से पूरा कर सकता है।

8. माका रूट

यह एक प्राकृतिक कामोत्तेजक पदार्थ होता है, जिसका उपयोग विभिन्न लिंग वर्धक उत्पादों में किया जाता है। इसे नियमित रूप से 12 सप्ताह तक लेने से स्पर्म की गतिशीलता और सांद्रता बढ़ाने में मदद मिलती है।

माका का एक लंबा इतिहास है और इसे पारंपरिक चिकित्सा के रूप में प्रयोग किया जाता है। यह पोषण तत्वों से भरपूर होता है और कामेच्छा को बढ़ा सकता है। इसके अलावा, शुक्राणुओं के स्वास्थ्य में सुधार करने की क्षमता रखने के कारण इसका पारंपरिक रूप से सेवन किया जाता आ रहा है।

यह किसी भी मेडिकल स्टोर या ऑनलाइन स्टोर पर आसानी से उपलब्ध है, और पाउडर, टेबलेट, अर्क और कैप्सूल के रूप में आता है। इसके पाउडर को आप दूध के साथ सेवन कर सकते हैं।

9. बीज

बीज फाइबर से भरपूर होते हैं। इसके अलावा, यह स्वस्थ मोनोअनसैचुरेटेड फैट, विटामिन, पॉलीअनसेचुरेटेड फैट, एंटीऑक्सिडेंट और खनिजों के अच्छे स्रोत हैं।

अपने स्वस्थ आहार के हिस्से के रूप में नियमित रूप से बीजों का सेवन करने से आपका ब्लड शुगर, ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल कम हो सकता है। चिया बीज, अखरोट, अलसी और सोयाबीन में ओमेगा-3 फैटी एसिड्स की उच्च मात्रा होती है।

इनमें फोलेट भी होता है जो एक बी विटामिन है, यह स्पर्म काउंट और स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव डाल सकता है। शरीर में फोलेट का कम स्तर, आपके शुक्राणु घनत्व में कमी और शुक्राणु डीएनए के नुकसान का कारण बन सकता है।

 
 
 
 

10. मछली

मछली फैटी एसिड के सबसे अच्छे स्रोतों में से एक होती है। इसमें ओमेगा-3 होता है जिसका पुरुष प्रजनन क्षमता पर सकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है।

कुछ शोधों के अनुसार, ओमेगा 3 से भरपूर आहार महिला अंडे की गुणवत्ता में सुधार कर सकते हैं, ओव्यूलेशन को नियंत्रित करने में मदद कर सकते हैं और अंडाशय की उम्र बढ़ने में देरी कर सकते हैं।

इसके अलावा, मछली विटामिन बी12 से भी भरपूर होती है, जो शरीर में अन्य आवश्यक यौगिक बनाने के लिए जाना जाता है। सैल्मन जैसी मछली में अत्यधिक मात्रा में ओमेगा-3 होता है, जो स्पर्म सेल की मेम्ब्रेन को बनाने में मदद करता है।

एक शोध के अनुसार, जो पुरुष सफेद मांस वाली मछली जैसे हलिबूट या कॉड का सेवन करते हैं उनमें स्पर्म की गुणवत्ता बेहतर होती है। दूसरी ओर, जिन पुरुषों ने वसायुक्त मछली जैसे ब्लूफिश, टूना और सैल्मन का सेवन किया, उनमें स्पर्म काउंट अन्य पुरुषों की तुलना में अधिक था, जिन्होंने इसे कम खाया।

11. फल और सब्जियां

फल और सब्जियां विटामिनों और पोषण के अच्छे स्रोत होते हैं। खासकर पीले और नारंगी रंग की सब्जियां और फल। एक शोध में पाया गया कि यह स्वस्थ शुक्राणु के लिए फायदेमंद हो सकते हैं।

पीले और नारंगी रंग की सब्जियों और फलों में कैरोटेनॉयड्स पाए जाते हैं। यह घटक आपके शरीर में बीटा कैरोटीन को विटामिन ए में बदल देते हैं। खरबूजे और शकरकंद में पीले और नारंगी रंग होते हैं, और ये दोनों ही शुक्राणुओं की गुणवत्ता व मात्रा में सुधार कर सकते हैं।

हालांकि, टमाटर जैसी लाल सब्जियों में लाइकोपीन होता है जो शुक्राणुओं की गुणवत्ता में सुधार करने में फायदेमंद हो सकता है। गाजर में ऐसे गुण होते हैं जो आपके शुक्राणुओं की गतिशीलता को बढ़ा सकते हैं।

एक शोध से पता चलता है कि जो पुरुष अधिक मात्रा में सब्जियां और फल खाते हैं, विशेष रूप से हरी पत्तेदार और बीज वाली सब्जियां, उनमें बेहतर शुक्राणु गतिशीलता और उच्च शुक्राणु सांद्रता होती है।

12. अंडे

स्पर्म काउंट और क्वालिटी बढ़ाने के लिए अंडे भी मददगार हो सकते हैं। इनमें प्रोटीन और विटामिन ई होता है। ये दोनों शुक्राणुओं की गतिशीलता में सुधार करने में मदद करते हैं।

रोजाना अंडे का सेवन करने से आपके स्पर्म को फ्री रेडिकल्स द्वारा नुकसान पहुँचने से बचाने में मदद मिल सकती है। इसलिए यह निषेचन (फर्टिलाइजेशन) की संभावना में सुधार करता है।

अंडे में जिंक भी मौजूद होता है, जिसका उपयोग शुक्राणुओं की गतिशीलता में सुधार के लिए किया जाता है।

सीधे शब्दों में कहें, तो अंडे में ऐसे पोषक तत्व होते हैं जो आपके शरीर को मजबूत और स्वस्थ शुक्राणु पैदा करने में मदद कर सकते हैं और आपकी प्रजनन क्षमता को भी बढ़ा सकते हैं।

13. अखरोट

अखरोट स्वस्थ फैट और प्रोटीन का एक और बढ़िया स्रोत होता है। चूंकि इसमें स्वस्थ फैट होता है, इसलिए यह सेल मेम्ब्रेन के उत्पादन का समर्थन कर सकता है जो शुक्राणु कोशिकाओं के लिए आवश्यक है।

यह आपके शुक्राणु की मात्रा को बढ़ाने में भी मदद कर सकता है, क्योंकि इसमें मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड आपके अंडकोष में रक्त के प्रवाह को बढ़ावा देता है।

अखरोट में आर्जिनाइन भी होता है, जो स्पर्म काउंट को बढ़ा सकता है।

यह लिपिड पेरोक्सीडेशन को भी कम कर सकता है, जो एक कोशिका क्षति प्रक्रिया है और शुक्राणु कोशिकाओं व शुक्राणु झिल्ली को नुकसान पहुँचाती है।

इसमें पॉलीअनसेचुरेटेड फैटी एसिड भी होते हैं, जो शुक्राणु कोशिकाओं को प्रभावी ढंग से भर सकते हैं।

शोधों के अनुसार हमने पाया कि अखरोट में 13 ग्राम पॉलीअनसेचुरेटेड फैटी एसिड होता है। चूंकि यह शुक्राणु कोशिकाओं की भरपाई करता है, इसलिए शुक्राणु क्षति को रोकने के परिणामस्वरूप उनकी गतिशीलता, जीवन शक्ति और आकारिकी में सुधार होता है।

14. गाजर

गाजर में भी ऐसे पोषक तत्व होते हैं जो स्पर्म काउंट बढ़ाने में मदद कर सकते हैं। यह पुरुषों में शुक्राणुओं के स्वास्थ्य को बनाए रखने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

शोधों से पता चलता है कि जो पुरुष रोजाना गाजर का सेवन करते हैं, वे अधिक मात्रा में स्पर्म पैदा कर सकते हैं। साथ ही, स्पर्म बेहतर गुणवत्ता वाले होते हैं और उनमें बेहतर गतिशीलता होती है, जो गर्भाधान में भी मदद करती है।

निष्कर्ष

वर्तमान समय में बांझपन और स्पर्म की कमी एक आम समस्या है जो दुनिया भर में हजारों पुरुषों को प्रभावित करती है।

यदि आप भी प्रजनन क्षमता की समस्याओं का सामना कर रहे हैं, तो आप अपनी जीवनशैली और आहार में बदलाव करके इसका इलाज कर सकते हैं। ऊपर बताए गए खाद्य पदार्थों को अपने आहार में शामिल करें। हालांकि, ऐसा कोई सबूत नहीं है जो इन खाद्य पदार्थों के प्रभावों की 100 प्रतिशत गारंटी का समर्थन करता हो।

साथ ही, आप कुछ बेहतरीन पुरुष लिंग वर्धक दवाओं, तरीकों और एक्सरसाइज का भी उपयोग कर सकती हैं, ताकि यह प्रजनन क्षमता बढ़ाने में आपकी मदद कर सकें।

यदि आप कम टेस्टोस्टेरोन के स्तर या पोषक तत्वों की कमी से पीड़ित हैं, तो संभावना है कि ये खाद्य पदार्थ आपकी मदद करें।

अन्य स्त्रोत

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.