प्रेगनेंसी में सेक्स करने की 10 पोजीशन

तो अब आप प्रेगनेंसी के कारण सामान्य मिशनरी पोजीशन में सेक्स नहीं कर पा रही हैं और आगे भी कई दिनों तक नहीं कर पायेंगी।

लेकिन फिर भी आप सेक्स कर सकती हैं। ऐसी कई सेक्स पोजीशन हैं जिनको प्रेगनेंसी में अपनाया जा सकता है।

आखिरकार सेक्स शरीर, अंतरंगता और निकटता का आनंद लेने के लिए ही तो होता है। और यदि आपको यह चिंता है कि लिंग-योनि का सेक्स बच्चे को चोट पहुँचा सकता है (जो वास्तव में गलत धारणा है), तब भी सेक्स का पूरा आनंद लेने के कई अन्य तरीके हैं।

प्रेगनेंसी में सेक्स करने की 10 पोजीशन


अमेरिका की सेक्स थेरेपिस्ट डॉ Holly Richmond के अनुसार "सेक्स सिर्फ लिंग-योनि का मिलन नहीं होता। बल्कि यह किशिंग, स्तन सुख, ओरल सेक्स, फैंटसी और यहाँ तक कि गुदा सेक्स के रूप में भी किया जा सकता है।"

"ओरल (मुख सेक्स) और मैनुअल (अपने हाथों से किया गया) सेक्स एक कपल की सेक्स लाइफ के अद्भुद घटक होते हैं। ओरल सेक्स के तरीकों के बारे में और जानकारी इकठ्ठा करें और कुछ नए सेक्स टॉय का इस्तेमाल करके देखें।"

सेक्स के दौरान इन सेक्स पोजीशन से बचें
  • प्रेगनेंसी में मिशनरी पोजीशन (जिसमें पुरुष ऊपर और महिला नीचे होती है) अपनाने से बच्चे को पहुँचने वाले ब्लड सर्कुलेशन पर दबाव पड़ सकता है, खासतौर से प्रेगनेंसी के 20 हफ़्तों के बाद।
  • पेट के बल लेटकर सेक्स करने से बचें क्योंकि इससे भी बच्चे पर दबाव पड़ सकता है।
  • योनि को ओरल जॉब देने के दौरान इसमें हवा न भरें। प्रेगनेंसी के दौरान महिला की योनि की रक्त कोशिकाओं में काफी ज्यादा ब्लड भर जाता है जिससे वह काफी संवेदनशील हो जाती हैं और थोड़ा सा दबाव पड़ने पर भी फट सकती हैं।
अपने और अपने साथ के बीच आदर्श सेक्स पोजीशन का पता लगाने के लिए प्रेगनेंसी के समय को एक एक्सपेरिमेंट के टाइम की तरह सोचें, खासतौर से पहले महीने के दौरान। और इस दौरान आप वह सबकुछ करके देख सकते हैं जिसमें आप दोनों को सहज महसूस हो।

फिर भी, आपके मन में यह प्रश्न तो होगा ही कि प्रेगनेंसी के दौरान महिला को सहज महसूस होने वाली सबसे अच्छी सेक्स पोजीशन कौनसी होती हैं। नीचे हमनें इनकी विस्तार से जानकारी दी है -
  1. पीछे से सेक्स
  2. काउगर्ल
  3. स्पूनिंग
  4. रिवर्स काउगर्ल
  5. खड़े होकर
  6. फ्लोटिंग प्रेग्नेंट
  7. बैठकर सेक्स
  8. प्रेग्नेंट ओरल सेक्स
  9. गुदा सेक्स
  10. कैंची पोजीशन

1. पीछे से सेक्स

पीछे से सेक्स


अक्सर इस सेक्स पोजीशन को सभी कपल्स के बीच काफी लोकप्रिय माना जाता है। इस पोजीशन में महिला डॉग की तरह अपने हाथों के बल खड़ी होती है और पुरुष पीछे खड़ा होकर लिंग अंदर डालता है।

हर स्थिति में इस सेक्स पोजीशन में लिंग का प्रेशर पेट पर नहीं पड़ता, जिससे महिला को ज्यादा सहज महसूस होता है। तकिया, कम्बल या टॉवल का इस्तेमाल दोनों पार्टनर के आराम को और ज्यादा बड़ा सकता है।

दिल्ली के सेक्सोलॉजिस्ट डॉ महेश प्रजापति के अनुसार "कई बार इस तरह की सेक्स पोजीशन में, जिनमें लिंग पीछे से अंदर जाता है, गहराई को नियंत्रित रखना जरूरी होता है। क्योंकि इसमें लिंग महिला के गर्भाशय को टच कर सकता है जिससे उसे तकलीफ महसूस हो सकता है।"

2. काउगर्ल

काउगर्ल सेक्स पोजीशन


इस सेक्स पोजीशन में सेक्स का पूरा कंट्रोल महिला के पास होता है और वह अपनी इच्छानुसार सेक्स कर सकती है। इस पोजीशन में पुरुष बेड पर सीधा लेटा होता है और महिला उसके ऊपर चढ़कर लिंग अंदर लेती है।

पेट पर प्रेशर को कम करने के लिए महिला को अपने दोनों पैरों को पुरुष के कन्धों के अगल-बगल रख लेना चाहिए और अपने हाथों को बेड पर या उसकी जांघों टिकाकर पीछे की तरफ झुक जाना चाहिए।

ताइवान में हुए एक शोध में यह पाया गया कि प्रेगनेंसी के दौरान महिला के पास सेक्स का पूरा कंट्रोल होने से उसकी सेक्स संतुष्टि में बढ़ोतरी होती है।

3. स्पूनिंग

स्पूनिंग सेक्स पोजीशन


रतलाम की स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ रजनी पांडे कहती हैं कि "प्रेगनेंसी के दौरान कपल की घनिष्ठता और अंतरंगता बढ़ाने के लिए स्पूनिंग सेक्स पोजीशन काफी अच्छा विकल्प होती है।"

"यह एक आरामदायक पोजीशन होती है, जिसमें महिला बेड पर एक तरफ मुख करके लेटी होती है और पुरुष उसको पीछे से पकड़कर लिंग अंदर डालता है। चूँकि प्रेगनेंसी के दौरान महिला के स्तन काफी संवेदनशील हो जाते हैं, इसलिए सेक्स के दौरान इन्हें टच करना काफी सुखदाई महसूस होता है। अतः सेक्स के दौरान पुरुष को महिला के स्तनों को हौले-हौले सहलाना चाहिए।"

साथ ही, इस पोजीशन में आप चाहे सेक्स कर रहे हों या सिर्फ किशिंग, लेकिन पुरुष को महिला की क्लाइटोरिस को हाथ से उत्तेजित जरूर करना चाहिए, क्योंकि यही वो जगह है जहाँ से सबसे ज्यादा मजा आता है।

4. रिवर्स काउगर्ल

रिवर्स काउगर्ल सेक्स पोजीशन


महिलाएं इस सेक्स पोजीशन को काफी पसंद करती हैं जिसमें पुरुष बेड पर सीधा लेटा होता है और महिला उसके पैरों की तरफ मुँह करके सेक्स करती है। इस पोजीशन में भी सेक्स का पूरा कंट्रोल महिला के पास होता है।

और जब महिला के पास नियंत्रण होता है, तो वह अपनी पसंद अनुसार सेक्स कर सकती है।

हालाँकि प्रेगनेंसी के बाद के दिनों में यह और काउगर्ल सेक्स पोजीशन थोड़ी चुनौतीपूर्ण हो सकती है, क्योंकि तब महिला का पेट काफी बढ़ जाता है और वजन बढ़ जाने के कारण उसे अपने कूल्हे ऊपर नीचे करने में तकलीफ होती है।

इसलिए आप अपने वजन को एडजस्ट करने के लिए अपने हाथों को पीछे की तरफ बेड पर रखकर सेक्स करें।

चूँकि पूरी प्रेगनेंसी के दौरान यह सेक्स पोजीशन काफी अच्छी होती है, लेकिन प्रेगनेंसी के तीसरे से छठे महीने के दौरान इसमें सबसे ज्यादा मजा आता है।

साथ ही, प्रेगनेंसी में महिला की कमर और पेट की संवेदनशीलता बढ़ जाती है जिससे इस सेक्स पोजीशन में उसे काफी उत्तेजना का अनुभव होता है।

विज्ञापन
loading...


5. खड़े होकर

खड़े होकर सेक्स पोजीशन


प्रेगनेंसी के पहले के 4 महीने खड़े होकर सेक्स करना काफी मेजदार हो सकता है, यदि आपका पार्टनर आपकी कमर के आसपास पकड़कर सेक्स करे तो।

4 महीने के बाद पेट ज्यादा बढ़ जाने के कारण आपको खड़े होने का संतुलन बनाने में कठिनाई हो सकती है और आप गिर भी सकती हैं। इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए आप दीवार पर अपने हाथ रखकर सेक्स कर सकती हैं।

चूँकि इस सेक्स पोजीशन में महिला के गिरने का खतरा रहता है। इसलिए हम इसे प्रेगनेंसी के 4 महीने के बाद न करने की ही सलाह देते हैं। हालाँकि इस पोजीशन में आप दोनों को काफी मजा आता है, तो सेक्स के आखिरी समय में एक सपोर्ट (जैसे दीवार पर हाथ रखकर) के साथ इसे किया जा सकता है।

6. फ्लोटिंग प्रेग्नेंट पोजीशन

फ्लोटिंग प्रेग्नेंट सेक्स पोजीशन


एक गर्भवती महिला को बाथटब में तैरते हुए सेक्स का अत्यधिक आनंद मिल सकता है। साथ ही, पानी में चीजों का भार कम हो जाता है इसलिए सेक्स के दौरान महिला के पेट का भार रुकावट नहीं डालता और वह काफी आराम महसूस करती है।

इस कारण से यह प्रेगनेंसी के आठवें महीने तक सेक्स करने के लिए सबसे अच्छी पोजीशन होती है।

हो सकता है कि आपके टब के आकार के आधार पर, आप पूरी तरह से पानी में तैरने में सक्षम न पाएं, इसलिए इसमें अपने पार्टनर की मदद लें। उसे अपने नीचे लिटा दें और उसके हाथों से अपने संवेदनशील अंगों को उत्तेजित करने दें। यदि आप किसी सेक्स टॉय का इस्तेमाल कर रही हैं तो पानी में ख़राब न होने वाले लुब्रीकेंट का इस्तेमाल करें।

7. बैठकर सेक्स

बैठकर सेक्स पोजीशन


आप बैठकर भी सेक्स करने का आनंद ले सकते हैं, जिसमें आप एक कुर्सी पर या बिस्तर के किनारे पर बैठती हैं, आपका आपका साथी नीचे बैठकर ब्लो जॉब देता है या खड़े होकर सेक्स करता है।

आप अपने कूल्हों के नीचे तकिया रखकर अपनी योनि को ऊपर भी उठा सकती हैं जिससे सेक्स आसान हो जाता है। या प्रेगनेंसी के शुरुआती दिनों में आप बिस्तर पर लेट भी सकती हैं। या जैसे भी आपको सहज महसूस हो वैसे बैठकर सेक्स कर सकती हैं।

इस पोजीशन में लिंग योनि के पीछे की तरफ अंदर जाता है इसलिए गर्भाशय और बच्चे को नुकसान नहीं पहुँचता।

8. प्रेग्नेंट ओरल सेक्स

प्रेग्नेंट ओरल सेक्स पोजीशन


गुरुग्राम की डॉक्टर सोनिया मंधाना कहती हैं "हाँ, प्रेगनेंसी के दौरान ओरल सेक्स देना या लेना पूरी तरह से सुरक्षित होता है। यदि आप अपने पार्टनर के लिंग को ओरल सेक्स देते हुए वीर्य पी लेती हैं तब भी प्रेगनेंसी और बच्चे पर कोई असर नहीं पड़ता। और यदि आपका पार्टनर आपकी योनि में ओरल सेक्स कर रहा है तब भी आपके बच्चे के विकास पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता।"

साथ ही, यदि आप योनि-लिंग का सेक्स करने के मूड में नहीं हैं तो ओरल सेक्स इसका एक अच्छा विकल्प है। हालाँकि अपने पार्टनर को ओरल सेक्स देते समय यह ध्यान रखें कि महिलाओं में प्रेगनेंसी के शुरुआती तीन महीनों में गैग रिफ्लक्स (gag reflex) काफी बढ़ जाता है। गैग रिफ्लक्स वह होता है जब हम कुछ भी अवांछित चीज गले में लेते हैं तो हमें खांसी आती है या ठसका लगने लगता है। तो लिंग को ओरल जॉब देते समय आपको बार-बार ठसका लग सकता है।

विज्ञापन
loading


9. गुदा सेक्स

गुदा सेक्स पोजीशन


हां, प्रेगनेंसी के दौरान गुदा सेक्स करना सुरक्षित होता है इसके लिए डॉगी स्टाइल सबसे अच्छी सेक्स पोजीशन होती है। हालाँकि आप स्पूनिंग सेक्स पोजीशन के दौरान भी इसे कर सकती हैं।

यदि आपने अभी तक गुदा सेक्स नहीं किया है तो एक बार प्रेगनेंसी से पहले ही इसे करके देख लें और जाँच कर लें कि आप इसमें कितना सहज महसूस करती हैं।

गुदा सेक्स करने की कुछ टिप्स
  • पहले 10-15 मिनट फोरप्ले करें और फिर धीरे-धीरे गुदा सेक्स करना शुरू करें।
  • इसे करते समय अत्यधिक लुब्रीकेंट का इस्तेमाल करें, क्योंकि गुदा में प्राकृतिक लुब्रीकेंट नहीं बनता और स्किन छिल सकती है।
  • गुदा के बैक्टीरिया और एसटीडी (यौन रोगों) से बचने के लिए कंडोम पहनें।
इस सेक्स पोजीशन को पूरी प्रेगनेंसी के दौरान अपनाया जा सकता है। हालाँकि, आपको बेहद सावधान रहने की जरूरत है। किसी भी टॉय, ऊँगली, जीभ या लिंग को गुदा में से निकालकर योनि में न डालें। ऐसा करने से गुदा के बैक्टीरिया योनि में फैल सकते हैं, जिससे प्रेगनेंसी में समस्याएं खड़ी हो सकती हैं।

10. कैंची पोजीशन

कैंची सेक्स पोजीशन


इस पोजीशन में दोनों पार्टनर्स एक दूसरे के आमने-सामने लेट जाएँ और अपने पैरों को कैंची की तरह फँसा लें।

किसी भी गर्भवती महिला को साइड की सेक्स पोजीशन आरामदायक महसूस होती है, और वह तकिया का इस्तेमाल करके अपने कूल्हों को ऊपर उठा सकती है जिससे पोजीशन और ज्यादा मजेदार हो जाती है।

इन साइड सेक्स पोजीशन में आप टॉय या हाथ के जरिये योनि सेक्स भी कर सकते हैं, या ओरल सेक्स भी ले-दे सकते हैं। मतलब आप घूमकर 69 पोजीशन में भी आ सकती हैं। 69 पोजीशन में यह ध्यान रखें की आप एक-दूसरे के ऊपर न चढ़ें, बल्कि अगल-बगल लेटकर ही ओरल सेक्स करें।

सेक्स टॉय का इस्तेमाल करें​

यदि आप प्रेगनेंसी के दौरान अत्यधिक उत्तेजना महसूस नहीं कर पा रही हैं या आपका फोरप्ले करने का मन नहीं करता है, तो ऐसे कुछ वाइब्रेटर मौजूद हैं जिनकी मदद से आप अपनेआप में एक लहर शुरू कर सकती हैं।

ज्यादातर टॉप सेक्स में वाइब्रेटर लगा होता है। साथ ही, सभी सेक्स टॉय और इनमें इस्तेमाल होने वाले मटेरियल शरीर के लिए सुरक्षित होते हैं और आसानी से साफ हो जाते हैं। प्रेगनेंसी में भी इनका इस्तेमाल किया जा सकता है।

तो हाँ - वाइब्रेटर, डिल्डो, इन्सर्टेबल, गेंद, जी-स्पॉट स्टिमुलेटर, पट्टा और जिस प्रकार के भी सेक्स टॉय हैं उनका इस्तेमाल करना ठीक है, जब तक कि आप इन उपकरणों को अच्छे से साफ रखती हैं।

यदि आप कोई सेक्स टॉय खरीदने के बारे में सोच रही हैं तो ऐसा टॉय खोजें जो हाई-क्वालिटी मटेरियल जैसे ग्लास, सिलिकॉन या शरीर के लिए सुरक्षित लेटेक्स से बने हों।

क्लाइटोरिस के काफी संवेदनशील होने के कारण आप शायद सेक्स टॉय के साथ काफी तेज और सघनता के साथ खेलें। इसलिए कुछ महिलाओं को हाई स्पीड वाइब्रेटर काफी पसंद आते हैं।

एक दर्पण भी मददगार हो सकता है​

प्रेगनेंसी के आखिरी दिनों में आप शायद अपने पैरों को भी देखने में सक्षम न हो पायें, इसलिए आपको अपनी योनि ढूँढ़ना भी वास्तव में चुनौतीपूर्ण हो सकता है।

दर्पण के जरिये यह देखना कि नीचे क्या चल रहा है, हमेशा एक अच्छा विचार होता है और प्रेगनेंसी सेक्स के दौरान तो निश्चित रूप से इसका इस्तेमाल करना चाहिए।

इसी तरह प्रेगनेंसी सेक्स में वो सबकुछ किया जा सकता है जिसमें आप सहज महसूस करती हैं और जिसे आपके डॉक्टर ने मना न किया हो।

मतलब यदि ऊपर दी गई किसी सेक्स पोजीशन में आपको असहज महसूस हो रहा है और बताये गए अनुसार आराम नहीं मिल रहा है, तो उसे छोड़ दें। आपके पास नौ और सेक्स पोजीशन हैं उपयोग करके देखने के लिए।

सम्बंधित लेख​

 
Last edited by a moderator:
Top