मैं अपने पहले प्यार को कैसे पाऊँ?

R

ranjeet

Guest
मैं अपने दिल और दिमाग के बीच उलझ गया हूँ। दिमाग कहता है कि मैं यह सब बंद कर दूँ और दिल कहता है कि आगे बढ़ता रहूँ।

खैर .. यह मेरे जीवन का पहला प्यार था और मुझे उससे प्यार तब हुआ था जब हम कॉम्पिटेटिव एग्जाम की तयारी कर रहे थे।

हम अक्सर एक ही समय पर क्लासरूम में आते थे और हमारी बेंच एक ही थी इसलिए अक्सर हमारी एक दूसरे से नजर मिलती रहती थी। हम पिछले दो साल से एक दूसरे को मन ही मन पसंद करते थे लेकिन कभी भी व्यक्त नहीं किया क्योंकि हम दोनों ही अपनी पढ़ाई, माता-पिता और अन्य कारणों से डरते थे।

अब 8 साल के बाद, मैं एक इंजीनियर हूँ और वह डॉक्टर है। (अलग-अलग शहरों में काम करते हैं)

एक दिन अचानक मुझे उसके बारे में जानकारी मिली क्योंकि मैं पिछले 8 सालों से उसकी तलाश कर रहा था। जैसे ही मुझे जानकारी मिली मैं उसके शहर और उसके क्लिनिक में गया (जैसा कि मुझे नहीं पता था कि वह कहाँ रहती है, इसलिए मैं उसकी क्लिनिक ही चला गया)। मैं उससे मिला, उसने कहा कि उसने मुझे नहीं पहचाना (मुझे यह सुनकर बहुत बुरा फील हुआ)। हमने केबिन में लगभग 40 मिनट तक बातचीत की और अपने मोबाइल नम्बरों का आदान-प्रदान किया।

इसके बाद मैंने उसे gm/gn के तीन-चार मैसेज भेजे। उसका जवाब था "मुझे मैसेज करना बंद करो, वर्ना मैं पुलिस को शिकायत कर दूंगी" मैं उसका मैसेज देखकर हैरान था। (लगभग 20 दिनों के बाद मैं फिर से सभी संदेह दूर करने के लिए उसकी क्लिनिक गया)

जैसे ही मैं उसके केबिन में गया उसने कहा "यहाँ नहीं, हम बाहर मिलेंगे I मैं तुम्हे कॉल करुँगी या तुम मुझे कॉल करना"। तो मैं चला गया और एक दिन के बाद उसे फोन किया। उसने फ़ोन नहीं उठाया। मैंने उसे मैसेज छोड़ दिया। उसने उसका भी जबाव नहीं दिया।

(शायद उसने मुझे एक दोस्त की तरह अपना फ़ोन नंबर दिया था, लेकिन मैं उसके बारे में सोचने से अपनेआप को नहीं रोक पाता हूँ)

मैं क्या करूँ? मैं सभी बातें साफ करना चाहता हूँ। मैं उसे अपनी भावनाएं बताना चाहता हूँ कि कैसे मैं पिछले 8 साल से उसे अपने पहले प्यार की तरह पसंद करता आ रहा हूँ। क्या मुझे फिर से उससे मिलने की कोशिश करना चाहिए या यह सब कुछ बंद कर देना चाहिए। प्लीज मुझे बताएं मैं क्या करूँ?
 

monikasharma

लव एक्सपर्ट
लव एक्सपर्ट
पोस्ट्स
26
Solutions
1
Reaction score
0
डिअर रंजीत

ज्यादातर लोगों को अपना पहला प्यार भुलाने में परेशानी होती है। क्योंकि यह एक बहुत ही गहरा अनुभव होता है। यह आपके दिलों-दिमाग में काफी गहराई तक घूमता ही रहता है।

लेकिन ज्यादातर लोग अपने प्यार को भुलाकर आगे बढ़ने में कामयाब हो जाते है, क्योंकि अपने "पहले प्यार" और अपने दिमागी और आर्थिक रूप से सक्षम बनने के बीच काफी बड़ा समय का अंतराल होता है। जाहिर सी बात है आप भी अपने जीवन के इसी पड़ाव पर हैं क्योंकि आपको 8 साल गुजर चुके हैं।

हाँ हम अपने दिमाग के जरिये सोचते हैं, लेकिन हमारी भावनाएं भी दिमाग का ही एक फंक्शन होता है। दिल सिर्फ भावनाओं को व्यक्त करने का रूपक होता है, इन दोनों का आपस में कोई लेना-देना नहीं होता। इसलिए अपने मन में कोई भी भ्रम न रखें।

सबसे पहले आपको अपने कुछ विश्वसनीय मित्रों से बात करनी चाहिए। मुद्दे के सभी आयामों पर विचार करना चाहिए और निर्णय लेकर आगे बढ़ना चाहिए। इसके बाद चाहे कुछ भी हो पीछे न हटें।

चलिए अब मुद्दों के आयाम कौन-कौन से हो सकते हैं इस पर चर्चा करते हैं। कृपया एक बार सोचकर देखें - क्या हो अगर उसकी शादी हो चुकी हो? वो अपने जीवन में सेटल हो चुकी हो और कोई रिस्क नहीं लेना चाहती हो? शायद उसका किसी डॉक्टर से शादी करने का प्लान हो? शायद उसकी कोई पारिवारिक जिम्मेदारियाँ हों? शायद उसके दिल में जात-पात या पैसे को लेकर कोई संदेह हो (हालाँकि आपने अपने प्रश्न में इन सब के बारे में कोई उल्लेख नहीं किया)? उसके इस तरह के व्यवहार के कई कारण हो सकते हैं, और उसको अपना निर्णय चुनने का पूरा हक़ है। लेकिन एक बात तो साफ है, वह जीवन में आगे बढ़ गई है और आपको भुला चुकी है।

अभी आप शायद 25-28 साल की उम्र के होंगे। अभी वर्तमान में आपकी कितनी लड़कियाँ दोस्त हैं। क्या आपको उनमें से किसी में भी रोमांटिक रूचि नहीं है या किसी को भी आप अपना संभावित लाइफ पार्टनर नहीं मानते। एक बात ध्यान रखें, हर समय बैक व्यू मिरर में देखते हुए गाड़ी चलाना नामुमकिन होता है। आप अपनी पुरानी यादों के साथ जी सकते हैं, लेकिन जीवन हमेशा आगे की तरफ ही बढ़ता है।

इसलिए मेरी आपसे यही गुजारिस है कि उससे संपर्क न करें।
 
विज्ञापन
Top