सम्भोग करने के फायदे

डॉक्टरों और वैज्ञानिकों के शोध से यह पता चला है की सम्भोग कई रोगों से हमारे शरीर को बचाता है।

विवाहित जीवन एक दूसरे को सुख, अपनापन और सम्भोग सुख देने के साथ-साथ एक-दूसरे के स्वास्थ्य और सौंदर्य को बनाये रखने में भी मदद करता है।

सेक्स के दौरान हमारे शरीर से एस्ट्रोजन (estrogen) नामक हॉर्मोन निकलता जिससे जो हमें ऑस्टियोपोरोसिस (osteoporosis) नामक बीमारी से बचाता है। इसके कारन हमारी त्वचा सुन्दर, चिकनी और चमकदार भी बनी रहती है।

एस्ट्रोजन हमारे शरीर के लिए एक वरदान है, जो हमें एक अदभुत सुख की अनूभूति कराता है। नियमित रूप से सफल सम्भोग करने वाले साथी अक्सर अधिक स्वस्थ और सुखी देखे जाते हैं। उनकी सुंदरता भी अधिक समय उम्र तक बनी रहती है और यौवन खिलता रहता है। उनमें आत्मविस्वास, उत्तेजना और उमंग भी अधिक होता है। इसके उलट सेक्स (सम्भोग) से परहेज करने वाले साथी तनाव (stress), अपराध बोध, संकोच और शर्म से पीड़ित हो जाते हैं।

तनाव से बचने के लिए और दिमाग को तरोताजा रखने के सम्भोग करना सबसे उचित उपाय है। सेक्स के दौरान हमारे शरीर से फेरोमोन्स (pheromones) नामक रसायन निकलता है, जिससे हमारा शरीर सुगन्धित हो उठता है। इसे सम्भोग इत्र (sex perfume) भी कहा जाता है क्योंकि यह सेक्स के सुख को बढ़ाने के लिए प्राकृतिक परफ्यूम का काम करता है। यह परफ्यूम दिमाग को अत्यधिक शांति और असाधारण सुख प्रदान करता है। यह हमारे शरीर को उच्च रक्तचाप (hypertension), मानसिक तनाव (mental stress), ह्रदय रोग और दिल का दौरा (heart attack) जैसी गंभीर बीमारियों से दूर रखता है। वहीँ दूसरी ओर सम्भोग से दूर भागने वाले लोगों में यह बीमारियां न होते हुए भी हो जाती हैं।

सम्भोग एक व्यायाम भी है​

सम्भोग के दौरान हमारा शरीर काफी मात्रा में ऊर्जा खर्च करता है और हमारे कई अंग इस दौरान व्यायाम की तरह ही काम करते है। इसलिए सेक्स को एक प्रकार का व्यायाम कहना भी गलत नहीं है। अंतर बस इतना है कि इसके लिए किसी ख़ास प्रकार के जूते, सूट और महँगी सामग्री की जरुरत नहीं होती। जरुरत है बस कमरे का दरवाजा बंद करने की। सेक्स शरीर की मांशपेशियों के खिंचाव (muscle stress) को दूर करके इसे लचीला बनाता है। एक बार का सम्भोग तैराकी के 10-20 चक्कर और किसी थका देने वाली एक्सरसाइज से ज्यादा असरदार होता है। सम्भोग विशेषज्ञों के अनुसार शरीर का मोटापा (obesity) को दूर करने के लिए सेक्स एक सबसे असरदार तरीका है। सम्भोग के दौरान अत्यधिक शारीरिक ऊर्जा खर्च होती है, जिससे शरीर में जमा अतिरिक्त चर्बी कम होती है। एक बार के सम्भोग में हमारा शरीर लगभग 500 से 1000 कैलोरी जलाता है। सेक्स के दौरान लिया गया चुम्बन भी मोटापा दूर करने में सहायक साबित होता है। विशेषज्ञों के अनुसार सम्भोग के दौरान लिए गए एक फुल किश लगभग 9 कैलोरी ऊर्जा को खर्च करता है। मतलब 390 बार लिए गए पूर्ण चुम्बन से आधा किलो वजन कम हो जाता है।

दर्द की अचूक दवा है सम्भोग​

कमर दर्द, पीठ दर्द आदि होने पर पत्नियां अक्सर सम्भोग से दूर भागती हैं। लेकिन यदि वो बिना किसी डर के पति के साथ सम्भोग करें तो उनका किसी भी प्रकार का दर्द ख़त्म होने में ज्यादा देर नहीं लगेगी। माइग्रेन, सिरदर्द, उन्माद, दिमाग की नसों में सिकुडन आदि का सेक्स एक सबसे सफल इलाज है। अनिद्रा (insomnia) होने पर बिस्तर करवटें बदलने या बालकनी में टहलने की वजाय सम्भोग का आनंद उठायें, फिर आपको खर्राटे वाली नींद आने में ज्यादा समय नहीं लगेगा। नियमित रूप से सेक्स में पति का साथ देने वाली पत्नियां माहवारी के सभी विकारों से बची रहती हैं।

सम्भोग को सिर्फ यौन सम्बन्ध बनाने तक ही सीमित न रखें। इसमें हंसी-मजाक, दिनचर्या की छोटी-छोटी बातें, स्पर्श, चुम्बन, आलिंगन आदि को भी शामिल करें। सेक्स के दौरान एकदम से स्खलित न हों, बल्कि धीरे-धीरे प्यार भरी बातों से शुरुआत करके शरीर के विभिन्न अंगों पर चुम्बन और orgasm आदि के जरिये सम्भोग का पूरा आनंद लें। सेक्स एक्सपर्ट्स के अनुसार लंबे समय तक सम्भोग करने से हमारे शरीर को सबसे अधिक लाभ मिलता है।

इस प्रसंग में यह बात विशेष तौर पर ध्यान देने वाली है कि जहाँ विवाहित जीवन में अपने साथी के साथ स्थापित किये गए सम्बन्ध हमारे लिए अनेक प्रकार से लाभकारी हैं, वहीं दूसरी ओर अवैध रूप से बनाये संबंधों के कारण हमें अनिद्रा, तनाव, STD (यौन रोग), AIDS आदि अनेक गंभीर बीमारियों और समस्यायों का सामना करना पड़ सकता है।
 
Top