लिंग पर शहद लगाने से क्या होता है?

समाधान
मैं आपको शहद के लिंग पर होने वाले फायदे की एक सच्ची घटना के बारे में बताने जा रहा हूँ, जो डॉक्टर्स के सामने हुई थी और यूरोप के समाचार पत्रों में भी छपी थी।

डेनमार्क का रहने वाला एक 55 साल का व्यक्ति डॉक्टर के पास जाता है, क्योंकि उसके लिंग की फोरस्किन काफी टाइट हो गई थी और लिंग के मुठ से पीछे नहीं आ रही थी।

डॉक्टर्स को शुरुआत में लगता है कि उसे balanoposthitis बीमारी है। Balanoposthitis लिंग में होने वाली एक बीमारी होती है जिसमें फोरस्किन और लिंग के मुठ में सूजन और इंफेक्शन होने लगता है।

लेकिन आगे के परिक्षण के बाद यह पता चला कि व्यक्ति के लिंग में खतना हो चुका है और उसके लिंग के आधार, शाफ्ट और मुठ पर बिना कैंसर वाले ट्यूमर थे।

इन ट्यूमर के बढ़ने के कारण लिंग की स्किन...

मोहन

New member
पोस्ट्स
7
Solutions
1
Reaction score
0
यदि आपके लिंग के बालों की वसामय ग्रंथि में संक्रमण हो गया है और उसमें मवाद बन रहा है तो उसपर और उसके आसपास शहद लगाने से जलन कम होती है और घाव जल्दी फरने लगता है।
 
विज्ञापन
loading...

DrNaveen

सेक्सोलॉजिस्ट
सेक्सोलॉजिस्ट
पोस्ट्स
22
Solutions
1
Reaction score
4
मैं आपको शहद के लिंग पर होने वाले फायदे की एक सच्ची घटना के बारे में बताने जा रहा हूँ, जो डॉक्टर्स के सामने हुई थी और यूरोप के समाचार पत्रों में भी छपी थी।

डेनमार्क का रहने वाला एक 55 साल का व्यक्ति डॉक्टर के पास जाता है, क्योंकि उसके लिंग की फोरस्किन काफी टाइट हो गई थी और लिंग के मुठ से पीछे नहीं आ रही थी।

डॉक्टर्स को शुरुआत में लगता है कि उसे balanoposthitis बीमारी है। Balanoposthitis लिंग में होने वाली एक बीमारी होती है जिसमें फोरस्किन और लिंग के मुठ में सूजन और इंफेक्शन होने लगता है।

लेकिन आगे के परिक्षण के बाद यह पता चला कि व्यक्ति के लिंग में खतना हो चुका है और उसके लिंग के आधार, शाफ्ट और मुठ पर बिना कैंसर वाले ट्यूमर थे।

इन ट्यूमर के बढ़ने के कारण लिंग की स्किन फटकर विभाजित होने लगी थी। मेडिकल भाषा में इस स्थिति को penile denudation कहा जाता है।

डॉक्टरों ने इन ट्यूमरों को काटकर निकाल दिया। फिर उन्होंने शरीर के अन्य अंगों से स्किन लेकर लिंग की स्किन को पुनर्निर्मित करने की कोशिश की, लेकिन यह प्रक्रिया असफल रही।

इसके बाद जो हुआ उसने पूरी मेडिकल कम्युनिटी को हैरान कर दिया।

दरअसल स्किन पुनर्निर्माण में असफल होने के बाद डॉक्टर्स ने मनुका शहद इस्तेमाल करके देखने का निर्णय लिया।

हालाँकि मनुका शहद पहले से ही अपने एंटी-बैक्टीरियल, एंटी-इंफ्लेमेटरी और घाव भरने वाले गुणों के लिए प्रचलित था। लेकिन, अविश्वसनीय रूप से, शहद की ड्रेसिंग का काफी संतोषजनक परिणाम मिला और दो सप्ताह के अंदर ही लिंग में नए टिश्यू बनना शुरू हो गए।

फिर व्यक्ति ने खुद ही बिना किसी इन्फेक्शन और दर्द के हर दूसरे दिन ड्रेसिंग को बदलना शुरू कर दिया।

52 दिनों के बाद उस व्यक्ति के लिंग के घाव पूरी तरह से भर गए और उसका सेक्सुअल फंक्शन भी लौट आया।

अब डॉक्टर्स यह दावा करते हैं कि मनुका शहद की "शादगी, कम लागत और प्रभावशीलता" के कारण यह जननांगों की पुनर्निर्माण सर्जरी का एक अच्छा विकल्प है।

उनका मानना है कि आजकल उभरते बैक्टीरियल रेजिस्टेंस के बीच एंटीबायोटिक्स के विकल्प के रूप में इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।

डॉक्टर्स कहते हैं: "अब कई एंटीबायोटिक दवाओं से बचने के लिए बैक्टीरिया में रेजिस्टेंस विकसित होना शुरू हो गया है, इसलिए इन दवाओं की जगह मनुका शहद जैसे कुछ प्राकृतिक उपचार काफी अच्छा विकल्प हैं।"

तो दोस्तों यह समाचार पढ़कर आपको यह तो समझ में आ ही गया होगा कि शहद में लिंग को स्वस्थ करने की क्षमता होती है। इसलिए आप इसे अपने लिंग पर लगाकर फायदा उठा सकते हैं।

इस दौरान यह बात ध्यान रखें कि केवल प्राकृतिक और अच्छी ब्रांड वाले शहद का ही उपयोग करें जिसमें कोई मिलावट न हो।
 
समाधान
Top