पेनिस की नसों का इलाज करने वाले 6 ऑयल

पेनिस की नसों में कमजोरी होने पर पुरुष को लिंग खड़ा करने या लम्बे समय तक खड़ा बनाये रखने में समस्या आती है। यह पुरुषों द्वारा अनुभव की जाने वाली सबसे आम यौन समस्याओं में से एक है।

किसी भी उम्र के पुरुष को पेनिस की नसों में कमजोरी का अनुभव हो सकता है, हालांकि इसके विकसित होने की संभावना उम्र के साथ बढ़ती जाती है।

उम्र के अलावा, लिंग की नसों में कमजोरी के अन्य जोखिम कारक निम्न हैं:

  • शराब का सेवन
  • डायबिटीज
  • ड्रग्स का इस्तेमाल
  • मोटापा
  • नींद की कमी
  • हाई कोलेस्ट्रॉल या हाई ब्लड प्रेशर
  • धूम्रपान
  • आलस्यपूर्ण जीवनशैली
  • तनाव
  • डिप्रेशन या चिंता

शारीरिक और भावनात्मक स्वास्थ्य दोनों ही पेनिस की नसों से मजबूती से जुड़े हुए हैं।

पेनिस की नसों की कमजोरी दूर करने वाले आवश्यक तेल

आवश्यक तेल विभिन्न पौधों के फूलों, जड़ों, पत्तियों, तनों और फलों से लिए गए अत्यधिक गाड़े अर्क होते हैं। इन अर्क में चिकित्सीय गुण होते हैं, जो पेनिस के तनाव को बेहतर बनाने में मदद कर सकते हैं।

  1. दालचीनी का तेल
  2. क्लेरी सेज ऑयल
  3. अदरक का तेल
  4. लैवेंडर का तेल
  5. गुलाब का तेल
  6. वन चम्पक​ तेल

1. दालचीनी का तेल

दालचीनी एक ऊर्जादायक पदार्थ है जो कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान करती है, जिसमें लिंग के रक्त प्रवाह में वृद्धि और बेहतर रक्त संचार शामिल है।

जानवरों पर हुए एक शोध में, दालचीनी को लिंग की खड़ा होने की क्षमता में सुधार करते हुए पाया गया है। इसको लिंग की मांसपेशियों को आराम देने में मदद करने के लिए भी फायदेमंद भी पाया गया है।

एक अन्य शोध से पता चला है कि दालचीनी टेस्टोस्टेरोन के स्तर, शुक्राणुओं की संख्या और शुक्राणु की गतिशीलता को बढ़ा सकती है।

अधिक टेस्टोस्टेरोन और लिंग में बेहतर रक्त प्रवाह के जरिये, दालचीनी का तेल पेनिस को पूरा खड़ा बनाए रखने में मदद कर सकता है। हालांकि, दालचीनी के प्रभावों का और अधिक मूल्यांकन करने के लिए अतिरिक्त शोधों की आवश्यकता है।

2. क्लेरी सेज ऑयल

क्लैरी सेज ऑयल का उपयोग रक्त प्रवाह को उत्तेजित करने, हार्मोन को संतुलित करने, मूड में सुधार करने और तंत्रिका तंत्र को शांत करने के लिए किया जाता है। (स्त्रोत)

पेनिस की नसों में कमजोरी के मुख्य कारण हार्मोनल असंतुलन, खराब रक्त संचार और तनाव हैं। क्लैरी सेज ऑयल रक्त के अवरोधों को कम करने और यौन गतिविधियों के लिए उत्तेजना की भावना पैदा करने में मदद कर सकता है।

3. अदरक का तेल

अदरक एक शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होता है जिसका कई स्वास्थ्य लाभों के लिए व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है।

जानवरों पर हुए एक शोध में पाया गया है कि अदरक के पाउडर का रोज सेवन करने से केवल 22 दिनों बाद शुक्राणु उत्पादन में वृद्धि हुई।

एक अन्य शोध में पाया गया कि अदरक उम्र से संबंधित स्तंभन दोष की शुरुआत को कम करने या उलटने में प्रभावी है। हालांकि, इन निष्कर्षों को मान्य करने के लिए अतिरिक्त शोधों की आवश्यकता है।

 
 
 
 

4. लैवेंडर का तेल

लैवेंडर काफी लोकप्रिय आवश्यक तेल है, और इसका कारण भी है। इसका औषधीय उपयोगों का एक लंबा इतिहास है, और यह नींद में सुधार व मूड को स्थिर करने से लेकर यौन इच्छा बढ़ाने तक हर चीज में मदद कर सकता है। (स्त्रोत)

एक शोध में पाया गया कि लैवेंडर के सेंट और कद्दू के छिलकों के संयोजन से लिंग के रक्त प्रवाह में 40% की वृद्धि हुई।

लैवेंडर के जरिये अरोमाथेरेपी मालिश प्राप्त करने से शरीर को आराम देने, मूड को बढ़ावा देने और चिंता व अवसाद को कम करने में मदद मिलती है, जो यौन इच्छा को बढ़ाने और पेनिस को पूरा खड़ा करने में सहायक हो सकता है।

5. गुलाब का तेल

गुलाब का तेल रक्त संचार प्रणाली के लिए फायदेमंद होता है और पेनिस में रक्त के प्रवाह को बढ़ाने के लिए जाना जाता है।

एक शोध में पाया गया कि गुलाब के अर्क ने डिप्रेशन से ग्रसित व SSRIs (मानसिक विकारों की दवाएं) लेने वाले पुरुषों की यौन क्रिया और पेनिस की नसों के तनाव में सुधार किया।

गुलाब के तेल ने न केवल शोध प्रतिभागियों की यौन क्रिया में सुधार किया, बल्कि उनके डिप्रेशन को भी कम किया।

2017 के एक अन्य शोध के अनुसार, गुलाब का तेल टेस्टोस्टेरोन के स्तर को भी बढ़ा सकता है, जिससे यौन इच्छा बढ़ाने में मदद मिलती है।

6. वन चम्पक​ तेल (यलंग यलंग)

वन चम्पक आवश्यक तेल का उपयोग आत्म-सम्मान को सुधारने, चिंता शांत करने और कल्याण की भावना प्रदान करने के लिए किया जाता है। (स्त्रोत)

इसके द्वारा डिप्रेशन, चिंता, उच्च रक्तचाप और तनाव को कम करना भी सिद्ध हो चुका है (स्त्रोत), जो पुरुष की यौन क्रिया और पेनिस की नसों में हस्तक्षेप कर सकते हैं।

आवश्यक तेलों का उपयोग कैसे करें?

पेनिस की नसों में कमजोरी दूर करने के लिए आवश्यक तेलों का उपयोग करने के कई तरीके हैं:

  • एक वाहक तेल (जैसे, जैतून के तेल या नारियल के तेल) में आवश्यक तेल की कुछ बूँदें मिलाएं और इससे अपनी पीठ, पेट और जननांगों के आसपास मालिश करें।
  • आवश्यक तेल की कुछ बूंदों को पानी में मिलाकर अपने बिस्तर पर स्प्रे करें।
  • तेल की खुशबू फैलाने के लिए बेडरूम में डिफ्यूज़र का इस्तेमाल करें।
  • नहाने के पानी में तेल की कुछ बूँदें मिलाएं।

नोट: इन आवश्यक तेलों को हमेशा एक वाहक तेल (जैसे नारियल का तेल) में मिलाकर ही इस्तेमाल करें। लिंग पर इस्तेमाल करने से पहले एक छोटी जगह पर इसे लगाकर देखें और यदि जलन हो तो इस्तेमाल न करें। कभी भी तेल को लिंग के अतिसंवेदनशील मुठ पर न लगाएं।

स्वास्थ्य लाभ

पेनिस की नसों में कमजोरी आने के कई कारण हो सकते हैं, और ऊपर बताये गए आवश्यक तेल इनमें से कुछ सामान्य कारकों को कम करने में मदद कर सकते हैं।

यौन क्रिया में सुधार लाने के लिए यह आवश्यक तेल कई प्रकार से मदद करते हैं, जैसे:

  • बेहतर नींद
  • रक्त संचार में सुधार
  • कामेच्छा में बढ़ोतरी
  • आत्म-सम्मान में बढ़ोतरी
  • चिंता और तनाव में कमी

आखिरी शब्द

जब बात सबसे फायदेमंद आवश्यक तेल चुनने की आती है, तो आपको सभी तेलों को एक-एक करके इस्तेमाल करने की जरूरत होगी।

हालाँकि कई पुरुषों को डॉक्टर से लिंग के ढीलेपन की समस्या के बारे में बात करना शर्मनाक लगता है, लेकिन याद रखें यह एक सामान्य स्थिति है, और डॉक्टर जानते हैं कि इसका इलाज कैसे किया जाता है।

यदि आपकी पेनिस की नसों में लम्बे समय से ढीलापन है और कोई भी घरेलू उपचार मदद नहीं कर रहे हैं, तो अपने डॉक्टर से मिलें। हो सकता है किसी अन्तनिर्हित कारक के कारण आपको या समस्या हो रही हो, जिसका पता लगाने और सही उपचार प्राप्त करने में डॉक्टर आपकी मदद कर सकता है।

प्रश्नोत्तर

क्या आवश्यक तेल लिंग के रक्त प्रवाह में सुधार करते हैं?

कुछ आवश्यक तेल लिंग के रक्त प्रवाह में सुधार करने के लिए जाने जाते हैं और पेनिस की नसों को मजबूत बनाने में मदद कर सकते हैं।

एक शोध में 30 गंधों को लिंग में रक्त के प्रवाह को बढ़ाते हुए पाया गया।

इसमें लैवेंडर ऑइल और कद्दू के छिलकों का मिश्रण सबसे प्रभावी था, जिससे लिंग के रक्त प्रवाह में 40% की वृद्धि हुई।

काली मुलेठी और डोनट का संयोजन दूसरी सबसे प्रभावी गंध थी, जिससे लिंग के रक्त प्रवाह में 31.5% की वृद्धि हुई।

2005 के एक शोध के अनुसार जायफल भी एक कामोत्तेजक पदार्थ होता है, जो रक्त संचार को बढ़ाने के लिए जाना जाता है, और लिंग को पूरा खड़ा होने लायक बनाने में मदद कर सकता है।

क्या आहार पेनिस की नसों को प्रभावित कर सकता है?

अस्वस्थ आहार खाने से मोटापा और इससे संबंधित स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं, जो पेनिस की नसों में कमजोरी विकसित होने की संभावना को बढ़ा सकती हैं।

कुछ शोध आहार और यौन स्वास्थ्य के बीच संबंध होने की पुष्टि करते हैं।

इसलिए स्वस्थ आहार खाने, धूम्रपान छोड़ने और शराब का सेवन कम करने से आपके संपूर्ण स्वास्थ्य और स्तंभन क्रिया में सुधार हो सकता है।