लिंग बड़ा करने की 4 Himalaya दवायें

Himalaya एक विश्वसनीय भारतीय हर्बल कंपनी है, जो ज्यादातर ब्यूटी और पर्सनल केयर प्रोडक्ट का निर्माण करती है।

इसकी कुछ दवायें, पुरुषों के लिंग को बड़ा करने, बेहतर और कठोर इरेक्शन, बेहतर कामेच्छा, ज्यादा यौन सहनशक्ति और बेहतर सेक्स परफॉरमेंस के लिए फायदेमंद हैं।

चाहे आप इरेक्टाइल डिसफंक्शन या लिंग खड़ा न होने की समस्या से पीड़ित हों, या फिर अपने सेक्स आनंद को बढ़ाना चाहते हैं, Himalaya की यह लिंग वर्धक दवायें आपकी सेक्स लाइफ को अगले स्तर तक ले जाने में मदद कर सकती है।

आपको निर्णय लेने में मदद करने के लिए हमने यहाँ पर Himalaya की चार सबसे कारगर दवाओं की सूची तैयार की है। हमने प्रत्येक दवा का मूल्यांकन उसके अवयवों, खुराक, ग्राहक समीक्षा, मूल्य और गारंटी के आधार की है।

यदि आप एक मोटे-लम्बे लिंग, अत्यधिक कामेच्छा, और लम्बे समय तक सेक्स का अनुभव करने के लिए तैयार हैं, तो Himalaya की 2 सर्वश्रेष्ठ लिंग वर्धक दवायें ये रहीं:

  1. हिमकोलिन जेल
  2. टेंटेक्स फोर्ट
  3. टेंटेक्स रॉयल
  4. कॉन्फिडो

हिमकोलिन जेल

लिंग के लिए हिमालय हिमकोलिन जेल के फायदे

हिमकोलिन जेल (Himcolin Gel) का उपयोग पुरुषों में नपुंसकता को ठीक करने के लिए किया जाता है। यह पूरी तरह से प्राकृतिक उत्पादों से बना होता है, जिनके कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं होते।

चूँकि यह लिंग में ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाता है, इसलिए सेक्स के दौरान लिंग को ज्यादा बड़ा करने में भी मददगार होता है।

यदि खराब लाइफ स्टाइल या किसी अन्य समस्या के कारण, आपके लिंग में पर्याप्त ब्लड नहीं पहुँच पाता और सेक्स के दौरान वह अच्छी तरह से खड़ा नहीं हो पाता, तो इस जेल के जरिये आप इसे लंबा मोटा कर सकते हैं।

हिमकोलिन जेल में पाए जाने वाले पदार्थ​

यह उत्पाद उन सभी प्राकृतिक घटकों की मदद से बना है जो टिश्यू को मजबूत बनाते हैं और लिंग को शक्ति और लंबे समय तक खड़े रहने की क्षमता प्रदान करते हैं।

एक ग्राम हिमकोलिन जेल में निम्न पदार्थ पाए जाते हैं –

  • लता कस्तूरी (150 मिग्रा)
  • बादाम का अर्क (100 मिग्रा)
  • ज्योतिष्मती (200 मिग्रा)
  • निर्गुण्डी (100 मिग्रा)
  • मुकुलका (50 मिग्रा)
  • कारपासा (50 मिग्रा)
  • तेजपत्ता (30 मिग्रा)
  • लौंग (30 मिग्रा)
  • जावित्री (30 मिग्रा)
  • जायफल (30 मिग्रा)

इस जेल को अश्वगंधा, शतावरी, अकरकरा, गुंजा और अंजीर के अर्क से तैयार किया जाता है। इन सभी जड़ी बूटियों को अपने कामोत्तेजक और लिंग को पूरा खड़ा करने के लिए फायदेमंद गुणों के लिए जाना जाता है।

उपयोग और फायदे​

इस जेल का उपयोग खासतौर से नपुंसकता और नामर्दी के इलाज के लिए किया जाता है। यह इरेक्शन को बढ़ावा देता है, लिंग में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ाता है, वीर्य को लम्बे समय तक रोके रखने में मदद करता है, लिंग में कठोरता बढ़ाता है, एक एंटीऑक्सीडेंट के रूप में काम करता है और लिंग मांसपेशियों को शक्रिया करता है।

लगाने का तरीका​

हिमालय हिमकोलिन जेल एक टोपिकल क्रीम होती है जिसे लिंग और उसके आसपास लगाना होता है। इस क्रीम को लिंग के सिरे (मुठ) को छोड़कर सब जगह लगाना चाहिए। क्रीम को कम से कम 60 सेकंड्स तक लगाकर छोड़ दें ताकि स्किन इसे अच्छी तरह से सोख ले। इसे संभोग के 30 मिनट पहले लगाना चाहिए।

अच्छे परिणाम पाने के लिए इस जेल को लगाने के साथ-साथ रोज सुबह-शाम Himalaya की टेंटेक्स फोर्ट टेबलेट को गर्म दूध के साथ खायें।

हिमकोलिन जेल कैसे काम करता है?​

यह जेल स्किन में नाइट्रिक ऑक्साइड को बड़ा देता है जिससे लिंग की ब्लड वेसल्स चौड़ी होकर फैलने लगती हैं। इससे लिंग में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है।

लिंग में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ने से यह खड़ा होने पर ज्यादा कठोर होता है और अपनी क्षमता अनुसार पूरा लम्बा मोटा हो जाता है।

यह Himalaya दवा लिंग की तंत्रिकाओं को भी उत्तेजित कर देती है, जिससे इरेक्शन काफी तेज होता है।

इस दवा में मौजूद पदार्थों में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एनाल्जेसिक (पीड़ाहर) गुण होते हैं।

इस दवा का प्रमुख कार्य लिंग की नाजुक मांसपेशियों को आराम प्रदान करना होता है।

यह लिंग की स्पंजी स्किन को नमी भी देता है, जिससे वह आसानी से अपने अंदर ब्लड भर लेता है।

साइड इफेक्ट्स​

यह दवा आयुर्वेद उत्पादों की तरह ही 100% प्राकृतिक पदार्थों से बनी होती है, इसलिए इसके कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं होते।

हालांकि, कुछ लोगों को जेल लगाने के बाद हल्के और अस्थायी साइड इफेक्ट्स हो सकते हैं जैसे कि लिंग के आसपास जलन, सूखापन, खुजली, सूजन और लालिमा।

हालाँकि ज्यादातर मामलों में यह लक्षण कुछ ही देर में अपनेआप ठीक हो जाते हैं, लेकिन यदि आपको लम्बे समय तक यह लक्षण दिखाई दें तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।

सावधानियाँ और चेतावनियाँ​

इस दवा का उपयोग करने से पहले अपने हाथों को अच्छी तरह से धो लें।

यह दवा सिर्फ बाहरी उपयोग के लिए है और इसे मौखिक रूप से नहीं खाना है।

इस दवा का कोई साइड इफेक्ट तो नहीं होता, लेकिन सुरक्षित रहने के लिए आपको इसका इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए और यह सुनिश्चित करना चाहिए कि इसका उपयोग करने के लिए आप फिट हैं या नहीं। ऐसी कुछ मेडिकल कंडीशन हो सकती हैं, जिसमें व्यक्ति को इस दवा का उपयोग नहीं करना चाहिए।

यदि आपको इस दवा में मौजूद किसी भी पदार्थ से एलर्जी है, तब भी इसका उपयोग न करें।

अन्य दवाओं के साथ हिमकोलिन जेल का परस्पर प्रभाव​

आमतौर पर आयुर्वेदिक दवाएं अन्य दवाओं के साथ रिएक्शन नहीं करती हैं, लेकिन फिर भी सावधानी बरतना जरूरी है। इसलिए, यदि आप किसी प्रिस्क्रिप्शन दवा को ले रहे हैं, तो इस जेल का उपयोग करने से पहले अपने को डॉक्टर सूचित करें।

यदि आप कोई अन्य आयुर्वेदिक दवा ले रहे हैं तो जरूर बेझिझक इस जेल का उपयोग कर सकते हैं, क्योंकि आयुर्वेदिक दवाएं एक-दूसरे के साथ रिएक्शन नहीं करतीं।

 
 
 
 

टेंटेक्स फोर्ट टेबलेट

लिंग के लिए Himalaya Tentex Forte टेबलेट्स के फायदे

टेंटेक्स फोर्ट (Tentex Forte) टेबलेट्स एक सेक्स और लिंग हेल्थ प्रोडक्ट है। इसमें ऐसी जड़ी-बूटियाँ पाई जाती हैं जो पुरुषों के लिंग को पूरा खड़ा करने में मदद करने और किसी भी सेक्स समस्या को ठीक करने के लिए प्रचलित हैं।

यह टेस्टोस्टेरोन स्तर को बढ़ाने में भी फायदेमंद हो सकती हैं।

यह शरीर और मन को फिर से सक्रिय करके तनाव से राहत देने में भी मदद करती हैं।

डॉक्टर या फार्मासिस्ट की सलाह के अनुसार आप टेंटेक्स फोर्ट टेबलेट्स का सेवन कर सकते हैं।

टेंटेक्स फोर्ट में पाए जाने वाले पदार्थ और उनके फायदे​

कपिकच्छु

इसमें कामोत्तेजक गुण होते हैं और इसे पुरुष की अंदरुनी कमजोरी को दूर करने में काफी फायदेमंद माना जाता है। यह शुक्राणुओं की कमी को ठीक करने में भी सहायक होता है और रिप्रोडक्टिव सिस्टम के कामकाज को बेहतर बनाने के लिए कुछ हॉर्मोन्स के उत्पादन में सुधार करता है।

शिलाजीत

शिलाजीत को “सेक्स कमजोरी का नाशक” भी कहा जाता है। इसमें काफी ज्यादा एंटीऑक्सीडेंट और कामोत्तेजक गुण होते हैं। यह लिंग कमजोरी में सुधार करने, सेक्स ताक़त बढ़ाने है और शरीर को ऊर्जावान बनाने में सहायक होता है।

गोखरू

यह नामर्दी और सेक्स कमजोरी के इलाज के लिए उपयोगी होता है। यह रिप्रोडक्टिव टिश्यू को मजबूत बनाता है। गोखरू में प्रोटोडिओसिन (Protodioscin) घटक पाया जाता है जो टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बड़ा सकता है और लिंग की नसों में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ाने में मदद करता है।

अश्वगंधा

यह आयुर्वेद की सबसे अधिक प्रचलित जड़ी-बूटियों में से एक है, जिसमें शरीर को किसी भी चीज के लिए अनुकूल बनाने के गुण होते हैं। यह तनाव को दूर करने में मदद करता है, जो खराब सेक्स परफॉरमेंस का एक प्रमुख कारक है। यह शरीर को जरूरी ऊर्जा को आरक्षित और सुरक्षित रखने में मदद करता है।

फायदे​

  1. टेंटेक्स फोर्ट टेबलेट्स पुरुषों में सेक्स हेल्थ को बढ़ावा देने में मदद करती हैं।
  2. लिंग में ब्लड सर्कुलेशन बढ़ाती हैं, जिससे उसे बड़ा करने में मदद मिल सकती है।
  3. यह नामर्दी और यौन इच्छा में कमी को ठीक करने में मदद कर सकती हैं।
  4. शुक्राणुओं की संख्या को बढ़ाने में मददगार होती हैं।
  5. तनाव दूर करके शरीर और दिमाग को तरोताजा करती हैं।

सावधानी और चेतावनियाँ​

इन टेबलेट्स का उपयोग करने से पहले अपने डॉक्टर से बात करें अगर

  1. आपको पहले से ही कोई मेडिकल प्रॉब्लम जैसे डायबिटीज, उच्च रक्तचाप, किडनी, लिवर प्रॉब्लम या कोई अन्य प्रॉब्लम है।
  2. आप कोई मेडिसिन या सप्लीमेंट का सेवन करते हैं।
  3. आपको इस दवा के किसी भी घटक से एलर्जी है, तो आपको टेंटेक्स फोर्ट टेबलेट्स नहीं लेना चाहिए।
  4. आपकी कोई सर्जरी या ऑपरेशन होने वाला हो।
  5. आपको बहुत अधिक शराब के सेवन से बचना चाहिए।
  6. यदि इस दवा का सेवन करने के बाद आप ठीक महसूस नहीं करते हैं या ध्यान केंद्रित नहीं कर पा रहे हैं, तो आपको ड्राइविंग करने से बचना चाहिए।

उपयोग के दिशा-निर्देश​

  • इस टेबलेट का नार्मल डोज है 4 से 6 हफ़्तों तक रोज दिन में दो बार एक टेबलेट। या आप अपने डॉक्टर या फार्मासिस्ट द्वारा सलाह के अनुसार भी टेंटेक्स फोर्ट टैबलेट ले सकते हैं।
  • लेकिन आपको इसके बताये गए डेली डोज से ज्यादा सेवन नहीं करना है।

स्टोरेज​

  • टेंटेक्स फोर्ट टैबलेट्स को नमी, धूप और गर्मी से दूर और साफ जगह में रूम टेम्प्रेचर पर स्टोर किया जाना चाहिए।
  • इनको बच्चों और पालतू जानवरों की पहुँच से दूर रखें।

टेंटेक्स रॉयल टेबलेट

लिंग के लिए Tentex Royal टेबलेट्स के फायदे

टेंटेक्स रॉयल (Tentex Royal) को आमतौर पर लिंग का ढीलापन, सेक्स इच्छा में कमी, शुक्राणुओं की संख्या में कमी और अन्य यौन समस्याओं के उपचार के लिए उपयोग किया जाता है।

यह गुर्दे की पथरी, पेट में गड़बड़ी और मधुमेह के उपचार में भी फायदेमंद पाई गई है।

यह खासतौर से इम्यून सिस्टम को सुधारने में मदद करती है।

टेंटेक्स रॉयल टेबलेट में पाए जाने वाले पदार्थ और उनके फायदे​

टेंटेक्स रॉयल में मुख्य रूप से प्राकृतिक जड़ी-बूटियाँ होती हैं। इसलिए इसे एक आयुर्वेदिक दवा माना जाता है।

इस दवा में पाई जाने वाली मुख्य जड़ी-बूटियों की सूची निम्न है:

बादाम

यह एक कामोद्दीपक पदार्थ है, जो शुक्राणुओं की संख्या के साथ-साथ उनकी गतिशीलता को बढ़ाने में भी मदद करता है।

साथ ही इसके कोई शुक्राणुनाशक प्रभाव भी नहीं होते।

गोखरू

इसे नामर्दी के इलाज में प्रभावी पाया गया है।

गोखरू में प्रोटोडियोसिन (Protodioscin) नामक कंपाउंड पाया जाता है, जो टेस्टोस्टेरोन का अग्रगामी पदार्थ होता है और शरीर में DHEA में बदल जाता है।

यह लिंग में मौजूद नसों को फैलाकर चौड़ा करता है, जिससे लिंग की कमजोरी दूर होती है।

इसके अलावा यह लिंग की स्मूथ मांशपेशियों के चौड़ा होने की क्षमता में भी सुधार लाता है, जिससे उत्तेजना के दौरान वह ठीक से खड़ा हो पाता है।

कोकिलाक्ष

यह लिंग की नसों में मौजूद नाइट्रेजिक तंत्रिका और एंडोथेलियम से नाइट्रिक ऑक्साइड के स्त्राव को बढ़ाता है।

यह कैवर्नोसल मांसपेशियों को आराम देने में भी मदद करता है। कैवर्नोसल लिंग के अंदर मौजूद एक स्पंज जैसा क्षेत्र होता है और इसमें इरेक्शन के दौरान ज्यादातर रक्त भरता है।

यह दोनों ही फायदे लिंग में रक्त संचार बढ़ाते हैं, जिससे इरेक्शन के दौरान लिंग ज्यादा मोटा लम्बा होता है।

अन्य पदार्थ

Tenex Royal में मौजूद कुछ अन्य पदार्थ निम्न हैं:

  • सुनिष्णक
  • केसर
  • नागवल्ली

उपयोग के दिशा निर्देश

  • टेंटेक्स रॉयल टेबलेट के रूप में उपलब्ध होता है और इसे पूरा निगल लेना चाहिए।
  • इसका सेवन सोने से एक घंटे पहले करना चाहिए।
  • इसे गर्म दूध के साथ लिया जा सकता है।
  • उचित फायदा लेने के लिए इस दवा का पूरा कोर्स करें, जो अक्सर 6 से 12 हफ़्तों का होता है।
  • ध्यान रखें: इसका सेवन नियमित रूप से करें और कोई भी दिन छूटे नहीं।

टेंटेक्स रॉयल कैसे काम करती है?

टेंटेक्स रॉयल शरीर में नाइट्रिक ऑक्साइड का पर्याप्त स्तर प्रदान करके नामर्दी और सेक्स इच्छा में कमी करती है। यह प्रक्रिया आमतौर पर जननांग क्षेत्र में होती है।

यह दवा DHA उत्पादन को भी बढ़ाती है, जो लिंग की कमजोरी के उपचार के लिए फायदेमंद होता है। यह लिंग की धमनियों को फैलाता है, जिससे इरेक्शन के दौरान वह पूरा लम्बा-मोटा होता है।

इसमें सबसे ज्यादा फायदेमंद गोखरू पदार्थ होता है। गोखरू में प्रोटोडियोसिन (protodioscin) नामक पदार्थ होता है, जो शरीर में DHA में बदल जाता है।

टेंटेक्स रॉयल में मुसली नामक घटक भी होता है, जो टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बढ़ाता है। इसके फलस्वरूप शुक्राणुओं की संख्या से साथ-साथ सेक्स परफॉरमेंस में भी सुधार आता है।

इस दवा में मौजूद क्रोकस सैटिवस (Crocus Sativus) दिमाग की कोशिकाओं को राहत देकर चिंता और तनाव के स्तर को कम करने में मदद करता है। इससे प्राकृतिक रूप से यौन प्रदर्शन में सुधार होता है।

Textex Royal के अन्य कामकाज

  • यह मस्तिष्क में डोपामाइन के स्तर को बढ़ाने में सहायता करता है। डोपामाइन एक न्यूरोट्रांसमीटर के रूप में कार्य करता है जिसका उपयोग अन्य तंत्रिका कोशिकाओं को संकेत भेजने के लिए किया जाता है।
  • यह प्रो-इंफ्लेमेटरी साइटोकिन्स को रोकता है। प्रो-इंफ्लेमेटरी साइटोकिन्स को एक प्रकार के सिग्नलिंग अणु के रूप में परिभाषित किया गया है जो इंफ्लेमेशन को बढ़ावा देने के लिए जिम्मेदार है।
  • इसमें पोटैशियम होने के कारण यह मूत्रवर्धक दवा भी होती है।
  • टेंटेक्स रॉयल अंडकोषों में मौजूद लेडिग कोशिकाओं से टेस्टोस्टेरोन संश्लेषण को सक्रिय करता है।

कॉन्फिडो

लिंग के लिए Himalaya Confido टेबलेट्स के फायदे

Himalaya कॉन्फिडो (Confido) टैबलेट के रूप में आती है, जिसका उपयोग यौन समस्याओं के इलाज, सेक्स इच्छा को बढ़ाने, जननांगों के विकारों को ठीक करने और इम्यून पावर बढ़ाने में किया जाता है।

साथ ही, यह लिंग के ऊतकों की ताकत को बढ़ाती है, नसों को चौड़ा करती है और कामेक्षा में सुधार लाती है।

इसके अलावा यह टैबलेट दिमाग में डोपामिन लेवल को भी बढ़ाती है।

कॉन्फिडो में पाए जाने वाले पदार्थ और उनके फायदे​

कॉन्फिडो में प्राथमिक रूप से गोक्षुरा और कपिकच्छु नामक अवयव पाए जाते हैं, जिनमें प्राकृतिक रूप से यौन स्वास्थ्य को मजबूत करने के आयुर्वेदिक गुण होते हैं।

  • कॉन्फिडो में गोक्षुरा एक कामोत्तेजक जैसी भूमिका निभाता है। यह घटक कामेच्छा बढ़ाने वाले शुक्राणुओं की संख्या में सुधार करता है।
  • कपिकच्छु पुरुष शरीर में यौन रोग की संभावना को कम करने वाला महत्वपूर्ण घटक है।

इन दो महत्वपूर्ण घटकों के अलावा, कॉन्फिडो में निम्न घटक भी पाए जाते हैं –

  • कोकिलाक्ष (Asteracantha Longifolia) – 38 मिग्रा
  • अश्वगंधा (Withania Somnifera) – 78 मिग्रा
  • वन्य काहू (Lactuca Serriola) – 20 मिग्रा

इस टैबलेट को और अधिक प्रभावी बनाने के लिए इसमें जीवन्ती, सर्पगंधा, शैलीयाम और विधारा जैसे घटक भी मौजूद होते हैं।

उपयोग के दिशा निर्देश

आम तौर पर कॉन्फिडो टेबलेट को दिन में दो बार लेने की सलाह दी जाती है। हालाँकि यदि आप किसी अन्य दवा का सेवन कर रहें है, तो अपने डॉक्टर की सलाह लेकर ही इसका सेवन करें

क्या इन दवाओं की प्रभावशीलता साबित करने के लिए कोई शोध हुए हैं?​


हां, इस दवा की प्रभावशीलता का आकलन करने के लिए हाल के दिनों में कुछ क्लीनिकल शोध किए गए हैं। उदाहरण के लिए, एक शोध में दवा के उपयोग के बाद नपुंसकता से ग्रसित 300 पुरुषों में से 66% ने सकारात्मक प्रतिक्रिया दर्ज की। इस शोध में हिमकोलिन जेल को Himalaya टेंटेक्स फोर्ट के साथ उपयोग किया गया था।

क्या हिमकोलिन जेल लिंग बड़ा करने में मदद करता है?​


हिमकोलिन जेल, लिंग के टिश्यू में ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ावा देता है, ताकि आपका इरेक्शन अच्छा हो। यह सेक्स के दौरान लिंग में लम्बे समय तक वीर्य को रोके रखने में भी मदद करता है जिससे शीघ्रपतन की समस्या से छुटकारा मिलता है। यदि लिंग में ब्लड सर्कुलेशन की कमी के कारण आपका लिंग छोटा हुआ है तो जरूर यह लिंग को बढ़ाने में मदद करेगा। लेकिन जेनेटिकली आपके लिंग की जो साइज फिक्स है, यह जेल उससे ज्यादा नहीं लम्बाई और चौड़ाई नहीं बड़ा सकता।

इन दवाओं का परिणाम प्राप्त करने में कितना समय लगता है?​


पूरा फायदा लेने के लिए, व्यक्ति को कम से कम एक मिनट तक हिमकोलिन जेल से लिंग की मालिश करना जरूरी है। आप इसका उपयोग करते हुए हर बार लगभग तुरंत एक सकारात्मक परिणाम देखेंगे।

लंबे समय तक लाभ प्राप्त करने के लिए और सेक्स हेल्थ सुधार लाने के लिए आपको नियमित रूप से तीन महीने तक सम्भोग से 30 मिनट पहले इसका उपयोग करना होगा।

अच्छे परिणाम पाने के लिए आप Himalaya हिमकोलिन जेल का उपयोग लौंग के तेल, अन्य आयुर्वेदिक लिंग की दवा और Himalaya टेंटेक्स फोर्ट कैप्सूल के साथ उपयोग कर सकते हैं।

7 thoughts on “लिंग बड़ा करने की 4 Himalaya दवायें”

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.